अग्निपथ स्कीम: आरएलपी संयोजक हनुमान बेनीवाल का बड़ा बयान, बोले- देश में गृह युद्ध जैसे हालात बन जाएंगे; बताई ये वजह


आरएलपी संयोजक हनुमान बेनीवाल ने अग्निपथ स्कीम को लेकर बड़ा बयान दिया है। राजस्थान के नागौर से सांसद बेनीवाल ने कहा कि योजना में सुधार नहीं किया गया तो देश में गृह युद्ध जैसे हालात बन जाएंगे। बेनीवाल ने युवाओं हिंसा से दूर रहकर लोकतांत्रिक तरीके से विरोध करने का आह्वान किया। राजधानी जयपुर में मीडिया से बात करते हुए सांसद बेनीवाल ने कहा कि नौजवान आंदोलन में हिंसा का रास्ता नहीं अपनाएं। लोकतांत्रिक रूप से विरोध करें।

27 जून को जोधपुर में विरोध-प्रदर्शन 

सांसद बेनीवाल ने कहा कि 27 जून को जोधपुर से केंद्र के संविदा भर्ती के निर्णय के विरोध में बड़े आंदोलन की शुरुआत होगी। इसके बाद जयपुर कूच किया जाएगा। आंदोलन को चरणबद्ध रूप से आगे बढ़ाया जाएगा। बेनीवाल ने कहा कि अगर समय अग्निपथ योजाना में सुधार नहीं किया गया तो देश में गृह युद्ध जैसे हालात बन जाएंगे। बेनीवाल ने कहा कि आशंका है कि केंद्र सरकार अलग-अलग रेजीमेंट को तोड़ सकती है। मोदी सरकार को सेना की रेजिमेंट से प्यार नहीं दिखता है। मुझ पर देश के अलग-अलग हिस्सों से युवाओं का दबाव आ रहा है।सड़क पर निकलने के लिए युवाओं का दबाव है। लेकिन हिंसा का रास्ता अपनाना कोई विकल्प नहीं है। 

संबंधित खबरें

अग्निपथ स्कीम: जयपुर-दिल्ली नेशनल हाईवे पर जाम; पुलिस से भिड़े स्टूडेंट

पश्चिम बंगाल तक पहुंची 'अग्निपथ' के विरोध की लहर, कई जगहों पर प्रदर्शन; रेलवे ट्रैक जाम करने की कोशिश

पश्चिम बंगाल तक पहुंची ‘अग्निपथ’ के विरोध की लहर, कई जगहों पर प्रदर्शन

'अग्निपथ' पर आगबबूला हुए प्रदर्शनकारी: भरतपुर में जाम किया रेलवे ट्रैक, पत्थरबाजी में कई पुलिसवाले घायल

अग्निपथ: भरतपुर में प्रदर्शनकारियों का पत्थरबाजी, कई पुलिसवाले घायल

केंद्र सरकार पर सरकार उपक्रमों को बेचने का आरोप

सांसद हनुमान बेनीवाल ने कहा कि सेना में टूर आॅफ ड्यूटी की सोच गलत है। केंद्र सरकार सरकारी संस्थाओं को प्राइवेट हाथों के देती जा रही है। उल्लेखनीय है कि आरएलपी ने दो दिन पहले ही जयपुर में बड़ा विरोध-प्रदर्शन किया था। आरएलपी कार्यकर्ताओं ने प्रदेश व्यापी प्रदर्शन के तहत जिला कलेक्टरों को ज्ञापन दिए थे। बुधवार को आरएलपी कार्यकर्तांओं ने राजधानी जयपुर और बाड़मेर विरोध प्रदर्शन किया था। नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने कहा कि अग्निपथ स्कीम देशहित में नहीं है। मोदी सरकार को अपने फैसले पर फिर से विचार करना चाहिए। सेना का मनोबल गिरेगा। स्कीम देशहित में बिलकुल भी नहीं है। 

आयु सीमा में शिथिलता देने की मांग 

आरएलपी के संयोजक हनुमान बेनीवाल ने मोदी सरकार से सेना भर्ती में जाने के लिए दो वर्ष की आयु में शिथिलता देते हुए जल्द से जल्द पहले की भांति सेना भर्ती रैलियों का आयोजन प्रारंभ करने, राजस्थान सहित देश के कई सेना भर्ती केंद्रों द्वारा करवाई गई सेना भर्ती रैलियो की परीक्षा सहित लंबित प्रक्रियाओं को जल्द से जल्द पूरा करने और भारतीय वायु सेना की अधूरी भर्तियों को भी जल्द से जल्द पूरा करने की मांग भी की। नौ सेना की भर्तीयों का आयोजन भी शुरू करने की भी मांग की। बेनीवाल ने कहा कि देश के युवा सांसदों से मैं बात कर रहा हूं। इस निर्णय का हम पुरजोर करते हैं। 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.