उदयपुर हत्याकांड: पूरे राजस्थान में अलर्ट जारी, 5 आरएसी की कंपनी उदयपुर पहुंचीं; जानें मामला


राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्हैया की नृशंस हत्या के बाद पूरे प्रदेश में अलर्ट जारी कर दिया है। सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए है। कानून व्यवस्था बिगाड़ने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। एडीजी जंगा श्रीनिवास, डीआईजी आरपी गोयल, राजीव पचार, करीब 30 आरपीएस और 5 आरएसी की कंपनी उदयपुर पहुंच गई है। एडीजी लाॅ एंड आॅर्डर हवा सिंह घुमरिया ने बताया कि उदयपुर घटना के बाद राजस्थान पुलिस अलर्ट मोड पर है। जल्द ही आरोपियों को पकड़ने में सफलता मिल जाएगी। उदयपुर कलेक्टर और एसपी मौके पर मौजूद है। आरोपियों को खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। मामले के देखते हुए उदयपुर में फिलहाल इंटरनेट बंद कर दिया गया है।

उदयपुर में फिलहाल स्थिति नियंत्रण में

उदयपुर में फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है। हवा सिंह घुमरिया ने कहा कि वीडियो में दो आऱोपी नजर आ रहे हैं। अगर घटना में कोई और भी शामिल है तो उसे भी पकड़ लिया जाएगा। पुलिस अधिकारियों को अपने-अपने इलाके में गश्त बढ़ाने के निर्देश जारी किए गए है। फिल्ड के आला अधिकारियों को भी फील्ड में माॅनिटरिंग करने के निर्देश दिए गए है। 

वीडियो वायरल करने पर होगी कार्रवाई 

उदयपुर में दर्जी कन्हैया की हत्या के विरोध में प्रदर्शन जारी है. पुलिस लोगों से शांति बनाए रखने की अपील कर रही है. उदयपुर में इंटरनेट बंद कर दिया गया है। डीजीपी एमएल लाठर ने घटना का वीडियो वायरल नहीं करने की अपील की है। डीजीपी ने कहा कि हत्याकांड का वीडियो वायरल करने वालों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। डीजीपी ने टीवी चैनल्स से इस हत्याकांड का वीडियो नहीं दिखाने की अपील की है।

धारदार हथियार से दर्जी का गला काट दिया

उल्लेखनीय है कि राजस्थान के उदयपुर में नूपुर शर्मा  का समर्थन करने के बाद दर्जी कन्हैया की बर्बरता से हत्या कर दी गई। हत्यारों ने दुकान में घुसकर धारदार हथियार से दर्जी का गला काट दिया, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। दर्जी की हत्या के विरोध में स्थानीय लोगों ने प्रदर्शन किया है। व्यापारियों ने भी बाजार बंद कर दिया है। इस बीच हालात के मद्देनजर अशोक गहलोत सरकार ने अधिकारियों की हाई लेवल मीटिंग बुलाई है। इंटरनेट को सस्पेंड कर दिया गया है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.