कांग्रेस विधायक ने की मायावती को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाने की मांग, सोनिया गांधी को लिखा पत्र; बताई ये वजह


राजस्थान में कांग्रेस विधायक जोगिंदर सिंह अवाना ने बसपा सुप्रमो मायावती को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाने की मांग की है। विधायक अवाना ने पार्टी आलाकमान सोनिया गांधी को पत्र लिखा है। बसपा से कांग्रेस में शामिल हुए विधायक अवाना ने अपने पत्र में लिखा कि मायावती उत्तप्रदेश की चार बार मुख्यमंत्री रही है। 1989 में बिजनौर से सांसद, 1994 में उत्तर प्रदेश से राज्यसभा सदस्य और 1995 में उत्तर प्रदेश की पहली दलित महिला मुख्यमंत्री बनीं। उन्होंने अपने पत्र में लिखा कि मायावती  उत्तर प्रदेश जैसे सबसे बड़े राज्य के मुख्यमंत्री रहीं और अपने कुशल नेतृत्व से पूरे भारत के दलित समाज को एक सूत्र में बांधकर रखा।

दलित समाज  ऋणी रहेगा

राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश में दलित समाज को एकत्रित कर कई विधायक, सांसद निर्वाचित करवाए। ऐसे में अगर मायावती को आगामी राष्ट्रपति चुनाव में कांग्रेस पार्टी का उम्मीदवार घोषित किया जाता है तो पूरे भारत का दलित समाज पार्टी का ऋणी रहेगा। दलित समाज कांग्रेस पार्टी का स्थाई मतदाता रहा है जो मायावती को राष्ट्रपति उम्मीदवार घोषित करने पर हमेशा कांग्रेस के पक्ष में रहकर भविष्य में कांग्रेस को मजबूत करेगा। ऐसे में मायावती को आगे भी राष्ट्रपति चुनाव में कांग्रेस पार्टी का उम्मीदवार बनाया जाना चाहिए।

बसपा से कांग्रेस में शामिल हुए थे अवाना

विधायक अवाना भरतपुर जिले की नदबई विधानसभा क्षेत्र से साल 2018 में बसपा के टिकट पर चुनाव जीते थे। लेकिन बाद में कांग्रेस में शामिल हो गए। राजस्थान में बसपा  से 6 विधायक कांग्रेस में शामिल हो गए। बसपा विधायकों के दम पर ही सीएम गहलोत पायलट गुट के बगावत के समय सरकार बचाने में कामयाब हो गए थे। बसपा सुप्रीमो मायावती अगर किसी सरकार से सबसे ज्यादा नाराज हैं तो वह है राजस्थान की गहलोत सरकार। इसके पीछे कारण है कि बसपा के सभी छह विधायक कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गए थे। ऐसा एक बार नहीं बल्कि दो बार हुआ है जबकि छह विधायकों का कांग्रेस पार्टी में विलय हुआ हो। बसपा से कांग्रेस में शामिल हुए विधायकों का मायावती से मोह फिर दिखाई देने लगा है।

संबंधित खबरें

राजस्थान के टोंक में सड़कों पर दिखे जलसैलाब जैसे हालात, देखें VIDEO

अग्निपथ स्कीम के विरोध में कांग्रेस जयपुर में निकालेगी तिरंगा यात्रा, गहलोत-पायलट रहेंगे मौजूद

अग्निपथ स्कीम के विरोध में कांग्रेस जयपुर में निकालेगी तिरंगा यात्रा

राजस्थान के कोटा में माहौल बिगाड़ने की साजिश? जिले में धारा 144 लगाने के आदेश जारी, जनिए वजह

कोटा का माहौल बिगाड़ने की साजिश? जिले में धारा 144 लगाने के आदेश जारी

राजस्थान में अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रस्ताव पारित: मंत्रिपरिषद ने की वापस लेने की मांग; जानें वजह

राजस्थान में अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रस्ताव पारित, वापस लेने की मांग

किरोड़ी लाल के लिए भी उठी मांग

विधायक अवाना से पहले निर्दलीय विधाक ओमप्रकाश हुडला ने भाजपा सांसद किरोड़ीलाल मीना को राष्ट्रपति उम्मीदवार घोषित करने की मांग की थी। दौसा जिले की महुवा से विधाक हुडला ने कहा कि वह इसके लिए एक करोड़ रुपये का चंदा देंगे। हुडला का कहना है कि किरोड़ीलाल 40 साल से राजनीति कर रहे हैं। आदिवासी समाज के बड़े नेता है। इसलिए किरोड़ी लाल को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया जाए। दौसा जिले में किरोड़ी और हुडला के बीत राजनीतिक अदावत जगजाहिर है। वर्ष 2018 के चुनावों में हुडला ने किरोड़ी लाल के भतीजे को शिकस्त दी थी। 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.