गहलोत के मंत्री महेश जोशी और शेखावत ट्विटर पर भिड़े, शेखावत ने कहा- पोल खुल जाएगी, जोशी ने दिया ये जवाब


राजस्थान में ईआरसीपी के मुद्दे को लेकर गहलोत के मंत्री महेश जोशी और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ट्वीटर पर भिड़ गए है। जलदाय मंत्री महेश जोशी ने ट्वीट कर लिखा-ईआरसीपी की डीपीआर गजेंद्र सिंह शेखावत के मंत्रालय के सलाहकार श्रीराम वैदिरे ने बनाई है। आपके मंत्रालय के सलाहकार से आप तकनीती पक्ष पर बात क्यों नहीं कर लेते। आप क्यों चाहते हैं कि आपके मुताबिक योजना बनाकर 13 जिलों के किसानों की 2 लाख हेक्टेयर भूमि को सिंचाई के लिए वंचित किया जाए। दरअसल, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत नने ट्विटर पर ईआरसीपी को लेकर शेखावत पर निशाना साधा तो जवाब में शेखावत ने कहा- गहलोत जी अब तो मैंने गिनती करना छोड़ दिया कि कितनी बार आपके झूठ के सामने सच रख चुका हूं. आप ईआरसीपी के बारे में जनता को तकनीकी पक्ष नहीं बताते क्योंकि आप की पोल खुल जाएगी। जलदाय मंत्री महेश जोशी ने केंद्रीय मंत्री शेखावत को जवाब दिया है. 

गहलोत ने किया था शेखावत पर पलटवार

सीएम गहलोत ने शनिवार को ईआरसीपी के मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री शेखावत पर जमकर हमला बोला था। सीएम गहलोत ने कहा कि पीएम मोदी ने अजमेर में आयोजित जनसभा में ईआरसीपी को राष्ट्रीय प्रोजेक्ट घोषित करने का वादा किया था। लेकिन केंद्रीय मंत्री शेखावत अपने वादे को भूल गए। उल्टा कांग्रेस पर ही आरोप लगा रहे हैं। प्रदेश की जनता इंतजार कर रही है कि शेखावत राजनीति से सन्यास कब लेंगे। इससे पहले हाल ही में केंद्रीय मंत्री शेखावत ने चौमू में मीडिया से बात करते हुए कहा कि पायलट की बगावत में ही कमियां थी। मैं आज जिम्मेदारी से कहता हूं। जिस तरह 2018 के बाद 2020 में मध्य प्रदेश के विधायकों ने फैसला किया। उसी तरह राजस्थान में हो गया होता तो 13 जिले अब तक प्यासे नहीं रहे होते। ईआरसीपी को राष्ट्रीप प्रोजेक्ट घोषित कर दिया जाता। शेखावत के बयान के बाद प्रदेश की राजनीति गर्मा गई। सीएम गहलोत ने केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पर उनकी सरकार गिराने का आरोप लगाया था। सीएम गहलोत ने कहा कि शेखावत अपनी आवाज का नमूना देने से क्यों बच रहे हैं। 

गहलोत-शेखावत की रही है पुरानी अदावत

राजस्थान की राजनीति में सीएम अशोक गहलोत और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की पुरानी अदावत रही है। दोनों ही नेता जोधपुर से आते हैं। लोकसभा चुनाव में केंद्रीय मंत्री शेखावत ने सीएम अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत को चुनाव में हराया था। तब से ही सीएम गहलोत और शेखालत के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर चलता रहा है। ईआरसीपी के मुद्दे पर सीएम गहलोत केंद्रीय मंत्री पर निशाना साधते रहे हैं। सीएम गहलोत का आरोप है कि राजस्थान के होने के बावजूद केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ईआऱसीपी को राष्ट्रीय प्रोजेक्ट का दर्जा नहीं दिला पाए। ये कैसे मंत्री है। राजस्थान की राजनीति में केंद्रीय मंत्री शेखावत का कद तेजी से बढ़ रहा है। शेखावत वसुंधरा विरोधी खेमे के नेता माने जाते हैं। 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.