गांधीजी ने कराई थी सुभाष चंद्र बोस की हत्या, विवाद बढ़ने पर भाजपा सांसद नरेंद्र कुमार खीचड़ ने कहा- जुबान फिसल गई


राजस्थान के झुंझुनूं जिले से भाजपा सांसद नरेंद्र कुमार खीचड़ ने कहा कि सुभाष चंद्र बोस को गांधीजी ने मरवाया था। बयान का वीडियो वायरल होने के बाद सांसद खीचड़ ने सफाई दी की उनकी जुबान फिसल गई। वायरल वीडियो की लाइव हिंदुस्तान पुष्टि नहीं करता है। एक कार्यक्रम में सांसद खीचड़ ने कहा कि  मैं महात्मा गांधी का सम्मान करता हूं। दफ्तर में उनकी फोटो लगा रखी है। दअसल, सांसद खीचड़ 25 जून को बाकरा गांव में स्वतंत्रता सेनानी श्योलाल खीचड़ की प्रतिमा अनावरण कार्यक्रम में गए थे। कार्यक्रम में सांसद ने कहा था कि सुभाष चंद्र बोस की हत्या महात्मा गांधी ने करवाई थी। प्रधानमंत्री तो एक को ही बनना था, गांधी ने बोस को चुनाव के लिए राजी तो कर लिया, लेकिन उन्हें मरवा भी दिया। वीडियो सामने आने के बाद सियासी हलकों में सांसद के इस बयान की चर्चा है। सांसद यह भी कह रहे हैं कि राजा महाराजाओं के समय से ही यह परंपरा रही है कि बेटा ही बाप को कत्ल करके राज करता है। नेताजी सुभाषचंद्र बोस के समय भी यह भावना थी।

बयान पर विवाद बढ़ने पर दी सफाई 

सांसद खीचड़ के बयान पर विवाद हुआ तो सोमवार को सफाई दी है। सांसद ने कहा कि मेरे कहने का मतलब वह नहीं था। मेरे कहने का मतलब था कि आजादी के बाद प्रथम प्रधानमंत्री सुभाष चंद्र बोस को बनना चाहिए था। गांधी चाहते तो सुभाष चंद्र बोस प्रधानमंत्री बन सकते थे, लेकिन गांधी ने जवाहरलाल नेहरू को प्राथमिकता दी।मेरे कहने का मतलब सामान्य भाषा में यह था कि गांधी के कारण ही सुभाष चन्द्र बोस प्रधानमंत्री नहीं बन पाए। गांधी ने सुभाषचन्द्र बोस का पॉलिटिकल मर्डर कर दिया। आशय यह नहीं था कि गांधी ने बोस को जान से मरवा दिया या हत्या करवा दी।

सांसद बोले- बयान को तोड़ मरोड़कर पेश किया 

विवाद बढ़ने पर सांसद नरेंद्र कुमार खीचड़ ने कहा कि कहने का मतलब कुछ और था जिसे तोड़-मरोड़ कर पेश कर दिया। महात्मा गांधी हमारे राष्ट्रपिता है। कोई ऐसा शब्द निकल गया हो तो मैं क्षमा चाहता हूं। हम तो महात्मा गांधी के सिद्धांतों पर चलने वाले हैं, हम राष्ट्रभक्त हैं। मैं महात्मा गांधी का पूरा सम्मान करता हूं।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.