राजस्थान: 12 साल की बच्ची के साथ गन पॉइंट पर गैंगरेप, 20 दिन बाद भी पुलिस की पकड़ से बाहर आरोपी


राजस्थान के भरतपुर के कैथवाड़ा थाना इलाके में स्थित एक गांव में विगत 13 मई की रात में दो पड़ोसी लड़कों ने एक 12 वर्षीय बालिका का बंदूक की नोक पर सामूहिक दुष्कर्म किया। पीड़िता का पिता बाहर ट्रक ड्राइवर है इसलिए जब वह 20 मई को घर वापस लौटा तो बेटी के साथ दुष्कर्म करने वाले आरोपियों के खिलाफ कैथवाडा थाने में शिकायत दर्ज कराई। लेकिन पुलिस अब तक किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर पाई है। पीड़िता बच्ची और उसका परिवार लगातार अपनी सुरक्षा और आरोपियों की गिरफ्तारी की गुहार लगा रहा है।

पीड़ित परिवार को दी जा रही जान से मारने की धमकी
मामला दर्ज होने के बाद आरोपियों द्वारा पीड़िता और उसके परिजनों को लगातार जान से मारने की धमकी दी जा रही है। वहीं आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कई दिनों से गांव-गांव दबिश दे रही है, लेकिन आरोपी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं। आरोपी की जल्द गिरफ्तारी के लिए पीड़ित परिवार शुक्रवार को पुलिस महानिरीक्षक कार्यालय भी पहुंचा और न्याय की गुहार लगाई। 

जानकारी के मुताबिक, बीती 13 मई को 12 साल की बालिका अपनी मां के साथ सो रही थी। रात के वक्त शौच के बाद वापस घर आते वक्त रास्ते में पड़ोसी गफ्फार और राहुल ने उसे पकड़ लिया। पीड़िता के सिर पर कट्टा लगाकर आरोपियों ने शोर मचाने पर गोली मारने की धमकी दी। इसके बाद आरोपी नाबालिग को दूर जंगल में ले गए और उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया । थोड़ी देर बाद पीड़िता की मां जागी तो बेटी को लापता पाया। परिजन पूरी रात पीड़िता को ढूंढते रहे और आखिर में सुबह 4 बजे बच्ची रोती हुई मिली।

संबंधित खबरें

राजस्थान: गैंगरेप का बनाया वीडियो, वायरल करने की धमकी दे बार-बार किया रेप

राजस्थान के भरतपुर में बहू ने बुजुर्ग सास को पीट-पीटकर किया घायल, बेटा भी देता रहा साथ

राजस्थान: पति संग मिल बहू ने सास को बेरहमी से पीटा, जानें पूरा मामला

भरतपुर: जानलेवा फायरिंग के बाद ऐक्शन मोड में राजस्थान पुलिस, 6 बजरी माफिया अरेस्ट

भरतपुर: जानलेवा फायरिंग के बाद ऐक्शन में पुलिस, 6 बजरी माफिया अरेस्ट

क्या कहना है पुलिस का
कैथवाड़ा थाना प्रभारी राम नरेश मीणा ने बताया कि 20 मई को एक शिकायत दर्ज हुई थी जिसमें एक व्यक्ति ने बताया था कि उसकी नाबालिग पुत्री के साथ दो लड़कों ने 13 मई को दुष्कर्म किया है। शिकायत दर्ज करने के बाद पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल मुआयना कराया और बयान दर्ज किया है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कई जगह दबिश दे रही है, और उन्हें जल्दी ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.