सचिन पायलट को लेकर मंत्री विश्वेंद्र सिंह के पुत्र का ट्वीट-अब सावन में तिलक, जानें मामला


कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद ने बदलाव के जो संकेत दिए है। उससे राजस्थान की राजनीति में उबाल आ गया है। आचार्य प्रमोद के बाद अब पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह के पुत्र अनिरुद्ध के ट्वीट से सियासी पारा गर्मा गया है। अनिरुद्ध ने ट्वीट कर लिखा- अब सावन में तिलक। मिल गया आशिर्वाद। जय-जय पायलट। इशारों ही इशारों में सचिन पायलट की ताजपोशी की ओर संकेत किया है। अनिरुद्ध सिंह के पिता पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह गहलोत सरकार में कैबिनेट मंत्री है। पायलट खेमे की बगावत के समय मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने सचिन पायलट का साथ दिया था। लेकिन बाद में विश्वेंद्र सिंह के पायलट कैंप साथ मधुर संबंध नहीं रहे। अनिरुद्ध सिंह पायलट समर्थक माने जाते हैं। दोनों पिता-पुत्र के बीच मधुर संबंध नहीं बताए जा रहे हैं। अनिरुद्ध सिंह ने कुछ महीने पहले मंत्री विश्वेंद्र सिंह पर अपनी मां के साथ मारपीट का भी आरोप लगाया था। 

आचार्य प्रमोद कृष्णम के ट्वीट से हलचल

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने हाल ही में ट्वीट किया था- विष पान करने वाले नीलकंठ का अभिषेक श्रावण मास में किया जाता है। हर-हर महादेव।  माना जा रहा है कि आचार्य प्रमोद ने यह ट्वीट सचिन पायलट को लेकर किया था। हालांकि, आचार्य प्रमोद कांग्रेस पार्टी के आधिकारिक प्रवक्ता नहीं है। लेकिन उनके ट्वीट से राजस्थान का सियासी पारा गर्मा जाता है। आचार्य प्रमोद सचिन पायलट समर्थक माने जाते हैं। कांग्रेस के चिंतन शिविर के दौरान भी मीडिया से बात करते हुए आचार्य प्रमोद ने सचिन पायलट को सीएम बनाने की मांग की थी। सचिन पायलट को सीएम बनाने के पक्ष में अक्सर बयान देते रहे हैं। आचार्य प्रमोद के निशाने पर गाहे-बगाहे सीएम अशोक गहलोत रहते हैं।

सीएम गहलोत ने लगाए थे आरोप 

बीते शनिवार को सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि उनकी सरकार को गिराने में केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने मुख्य किरदार निभाया। शेखावत और पायलट मिले हुए थे। मैंने देखा। शेखावत के बयान से इसकी पुष्टि हो गई है। इसके बाद गहलोत सरकार में नं. 2 की हैसियत रखने वाले यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि शेखावत-पायलट सरकार गिराने में शामिल थे। सीएम ने देखा है तो मैंने भी देखा है। दरअसल, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने भाजपा की रैली में यह कहकर सनसनी फैला दी थी कि सचिन पायलट से चूक हो गई। वरना राजस्थान में भी मध्यप्रदेश जैसे हालात होते। शेखावत के बयान के बाद ही प्रदेश में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया। शेखावत के बयान पर पलटवार करते हुए सचिन पायलट ने कहा कि जोधपुर में चूक हो गई। इसलिए कांग्रेस हार गई और गजेंद्र सिंह शेखावत मंत्री बन गए। 2024 के लोकसभा चुनावों में गलती होने दी जाएगी। 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.