International Yoga Day 2022: Standing On One Leg Reached Guinness Book Of Records, Garudasana Done Continuously For 33 Minutes – International Yoga Day 2022: एक पैर पर खड़े रहकर पहुंची गिनीज बुक में, 33 मिनट तक लगातार किया गरुड़ासन 


अजमेर जिले के मार्बल सिटी किशनगढ़ की योग शिक्षिका मोनिका कुमावत ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर शहर ही नहीं पूरे प्रदेश का मान बढ़ाया है। योग शिक्षिका मोनिका कुमावत का गिनीज वर्ल्ड बुक में नाम दर्ज करवाकर इस योग दिवस पर अपना सपना पूरा कर लिया। 

मोनिका ने 33 मिनट 12 सेकंड में गरुडासन करते हुए एक पैर पर खड़े रहकर रिकॉड बनाया। इससे कुमावत का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में दर्ज किया गया। मोनिका लंबे अरसे से योग कर रही हैं। पिछले साल योग दिवस पर मोनिका ने 10 मिनट में 108 सूर्य नमस्कार कर इंटरनेशनल बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज करवाया था। 

विश्व योग दिवस पर कृष्णम योग स्थली की संस्थापिका मोनिका ने गिनीज वर्ल्ड बुक में नाम दर्ज करवाकर साबित कर दिया कि मेहनत और लक्ष्य पाने की सोच से कुछ भी हासिल किया जा सकता है। मोनिका ने कहा कि गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में नाम दर्ज कराने का सपना लंबे समय से देख रही थी। इसे पूरा करने के लिए एक साल कड़ी मेहनत की। सबसे बड़ी बात यह है कि गिनीज बुक में इस योगासन का पहला रिकॉर्ड मोनिका के नाम हो गया है। मोनिका ने डॉक्टर चेतन शर्मा, आशीष कुमार नामा, अखिलेश जैन, तेजाराम कुमावत व आशुतोष कुमार देखरेख में गिनीज रिकॉर्ड बनाया। 

हाथ-पैरों में मजबूती आती है 

मोनिका ने बताया कि गरुड़ासन करने से हाथ-पैरों में मजबूती आती है। शरीर में संतुलन बनता है। मांसपेशियां मजबूत होती है। यह गठिया रोगियों का इलाज है। योग में जागरुकता लाने के लिए मोनिका समय-समय पर निशुल्क योग शिविर लगाकर जागरूक करती है। 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.