Rajasthan: अलवर सीजीएसटी अधीक्षक व इंस्पेक्टर गिरफ्तार, ऑयल मिल मालिक से ली चार लाख की रिश्वत


न्यूूज डेस्क, अमर उजाला, अलवर
Published by: रोमा रागिनी
Updated Wed, 15 Jun 2022 07:49 AM IST

ख़बर सुनें

भरतपुर शहर में मंगलवार को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने कार्रवाई है। एसीबी ने केंद्रीय वस्तु एवं सेवा अलवर के अधीक्षक और निरीक्षक को एक स्विफ्ट डिजायर गाड़ी में 4 लाख रुपये की रिश्वत राशि ले जाते गिरफ्तार किया है। आरोपी एक ऑयल मिल मालिक को धमका कर 10 लाख की मांग कर रहे थे।

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार एसीबी की टीम ने आरोपियों को भरतपुर शहर के रीको रोड सीएनजी पंप के पास गिरफ्तार किया और आरोपियों से रिश्वत राशि बरामद कर ली है। सीजीएसटी अलवर का अधीक्षक धनराज कुमावत और निरीक्षक विनय ने भरतपुर के रीको औद्योगिक क्षेत्र स्थित एक ऑइल मिल पर नौ करोड़ रुपये का फर्जी स्टॉक बताकर मालिक को धमका कर 10 लाख रुपये रिश्वत की मांग की थी।

आरोपियों ने रिश्वत नहीं देने पर परिवादी के खिलाफ केस बनाकर गिरफ्तार करने की धमकी दी। परिवादी की तरफ से अपनी ऑयल मिल के कागजात पेश करने पर दोनों आरोपियों ने परिवादी के साथ चार लाख रुपये देने को कहा। जिसके बाद एसीबी ने आरोपियों की गाड़ी से चार लाख की रिश्वत राशि बरामद की है। आरोपियों के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत कार्रवाई की जा रही है। 

विस्तार

भरतपुर शहर में मंगलवार को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने कार्रवाई है। एसीबी ने केंद्रीय वस्तु एवं सेवा अलवर के अधीक्षक और निरीक्षक को एक स्विफ्ट डिजायर गाड़ी में 4 लाख रुपये की रिश्वत राशि ले जाते गिरफ्तार किया है। आरोपी एक ऑयल मिल मालिक को धमका कर 10 लाख की मांग कर रहे थे।


मीडिया रिपोर्टस के अनुसार एसीबी की टीम ने आरोपियों को भरतपुर शहर के रीको रोड सीएनजी पंप के पास गिरफ्तार किया और आरोपियों से रिश्वत राशि बरामद कर ली है। सीजीएसटी अलवर का अधीक्षक धनराज कुमावत और निरीक्षक विनय ने भरतपुर के रीको औद्योगिक क्षेत्र स्थित एक ऑइल मिल पर नौ करोड़ रुपये का फर्जी स्टॉक बताकर मालिक को धमका कर 10 लाख रुपये रिश्वत की मांग की थी।


आरोपियों ने रिश्वत नहीं देने पर परिवादी के खिलाफ केस बनाकर गिरफ्तार करने की धमकी दी। परिवादी की तरफ से अपनी ऑयल मिल के कागजात पेश करने पर दोनों आरोपियों ने परिवादी के साथ चार लाख रुपये देने को कहा। जिसके बाद एसीबी ने आरोपियों की गाड़ी से चार लाख की रिश्वत राशि बरामद की है। आरोपियों के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत कार्रवाई की जा रही है। 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.