Rajasthan: दो बच्चों के साथ महिला ट्रेन के आगे कूदी, मौत, बेटी ने हाथ छुड़ाकर बचाई जान


न्यूूज डेस्क, अमर उजाला, अलवर
Published by: रोमा रागिनी
Updated Mon, 27 Jun 2022 09:49 AM IST

ख़बर सुनें

अलवर में खैरथल कस्बे के रेलवे स्टेशन पर एक महिला ने अपने बेटे और बेटी के साथ मालगाड़ी के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली। जबकि एक बेटी महिला से हाथ छुड़ाकर भाग निकली। जिसके चलते उसकी जान बच गई। 

जीआरपी के थानाधिकारी मोहन सिंह ने बताया कि मजदूर देशराम जाट की 35 वर्षीय पत्नी सुमन अपने घर से दो बच्चे मयंक और ईशा के साथ स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर दो पर बनी छतरी के नीचे बैठ गई थी। दोपहर में जैसे ही मालगाड़ी आई, वह अपने बच्चों को पकड़ कर ट्रेन के सामने खड़ी हो गई। जिसके चलते सुमन और उसके नौ वर्षीय बेटे मयंक की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं 12 वर्षीय बेटी ईशा अपनी मां का हाथ छुड़ाकर भाग गई।

इस हादसे की जानकारी बेटी ने अपने परिजनों को फोन पर दी, जिसके बाद परिजन मौके पर पहुंचे। रविवार शाम करीब छह बजे पीहर पक्ष के लोगों के आने के बाद पुलिस ने रेलवे स्टेशन से शवों को कस्बे के सैटेलाइट अस्पताल की मोर्चेरी में रखवाया और पोस्टमार्टम कराकर शवों को परिजनों के सुपुर्द किया। 

इस मामले को लेकर मृतका के पिता दयाराम जाट ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। अभी तक आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है लेकिन पुलिस इस मामले को लेकर परिजनों से पूछताछ कर रही है।

विस्तार

अलवर में खैरथल कस्बे के रेलवे स्टेशन पर एक महिला ने अपने बेटे और बेटी के साथ मालगाड़ी के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली। जबकि एक बेटी महिला से हाथ छुड़ाकर भाग निकली। जिसके चलते उसकी जान बच गई। 


जीआरपी के थानाधिकारी मोहन सिंह ने बताया कि मजदूर देशराम जाट की 35 वर्षीय पत्नी सुमन अपने घर से दो बच्चे मयंक और ईशा के साथ स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर दो पर बनी छतरी के नीचे बैठ गई थी। दोपहर में जैसे ही मालगाड़ी आई, वह अपने बच्चों को पकड़ कर ट्रेन के सामने खड़ी हो गई। जिसके चलते सुमन और उसके नौ वर्षीय बेटे मयंक की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं 12 वर्षीय बेटी ईशा अपनी मां का हाथ छुड़ाकर भाग गई।

इस हादसे की जानकारी बेटी ने अपने परिजनों को फोन पर दी, जिसके बाद परिजन मौके पर पहुंचे। रविवार शाम करीब छह बजे पीहर पक्ष के लोगों के आने के बाद पुलिस ने रेलवे स्टेशन से शवों को कस्बे के सैटेलाइट अस्पताल की मोर्चेरी में रखवाया और पोस्टमार्टम कराकर शवों को परिजनों के सुपुर्द किया। 


इस मामले को लेकर मृतका के पिता दयाराम जाट ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। अभी तक आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है लेकिन पुलिस इस मामले को लेकर परिजनों से पूछताछ कर रही है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.