Rajasthan: निम्स यूनिर्वसिटी के चेयरमैन को दुष्कर्म केस में फंसाने की धमकी, आरोपी ने पत्नी से 14.32 लाख ठगे


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जयपुर
Published by: उदित दीक्षित
Updated Tue, 28 Jun 2022 04:45 PM IST

ख़बर सुनें

राजस्थान के जयुपर की निम्स यूनिर्वसिटी के चेयरमैन को दुष्कर्म केस में फंसाने की धमकी देकर उनकी पत्नी से ठगी का मामला सामने आया है। आरोपी ने यूनिर्वसिटी के चेयरमैन डॉ. बीएस तोमर की पत्नी डॉ. शोभा तोमर से 14. 32 लाख रुपये हड़प लिए। आरोपी ने शोभा तोमर से आयकर विभाग का डायरेक्टर सुमंत सिंहा बनकर बात की थी। ठगी का अंदेशा होने पर पर उनकी डॉक्टर शोभा ने थाने में केस दर्ज कराया। 

थाने में दी अपनी रिपोर्ट में डॉ. शोभा ने बताया कि 12 जून की दोपहर उनके मोबाइल पर एक कॉल आया। सामने से बोल रहे व्यक्ति ने खुद को आयकर विभाग का डायरेक्टर सुमंत सिंहा बताया। साथ ही उसने कहा, डॉ. बीएस तोमर ने एक लड़की के साथ दुष्कर्म किया है। इसके सारे सबूत मेरे पास हैं। केस को दबाने के लिए उसने शोभा से रुपये की डिमांड की। 

मोती डूंगरी थाना पुलिस के अनुसार अगले दिन 13 जून को शोभा तोमर जयपुर से दिल्ली पहुंच गई। जहां पर आरोपी ने एक होटल में कमरा बुक कर रखा था। इस दौरान आरोपी ने शोभा को फोन कर कहा कि एक व्यक्ति को भेज रहा हूं उसे 75 हजार रुपए दे दो। कुछ देर बात वह सबूत लेकर आएगा। इसके बाद फोन कट गया। इसके कुछ देर बाद एक व्यक्ति आया रुपये लेकर चला गया। आरोपी का फोन नहीं आने पर डॉ. शोभा वापस जयपुर आ गईं। इसके बाद भी डॉ. शोभा के पास आरोपी के कॉल आते रहे। 13 से 21 जून के बीच हर दिन शोभा ने आरोपी को पैसे दिए, लेकिन उसने बीएस तोमर के खिलाफ दुष्कर्म का कोई भी सबूत नहीं दिया। 

13 जून से 21 जून के बीच डॉ. शोभा ने आरोपी को 14 लाख 32 हजार रुपये दे दिए। इसके बाद उन्हें शक हुआ कि आरोपी कहीं झूठ बोलकर तो उनसे रुपये नहीं ले रहा है। इसके बाद उन्होंने मोती डूंगरी थाने में आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कराया। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।  

विस्तार

राजस्थान के जयुपर की निम्स यूनिर्वसिटी के चेयरमैन को दुष्कर्म केस में फंसाने की धमकी देकर उनकी पत्नी से ठगी का मामला सामने आया है। आरोपी ने यूनिर्वसिटी के चेयरमैन डॉ. बीएस तोमर की पत्नी डॉ. शोभा तोमर से 14. 32 लाख रुपये हड़प लिए। आरोपी ने शोभा तोमर से आयकर विभाग का डायरेक्टर सुमंत सिंहा बनकर बात की थी। ठगी का अंदेशा होने पर पर उनकी डॉक्टर शोभा ने थाने में केस दर्ज कराया। 

थाने में दी अपनी रिपोर्ट में डॉ. शोभा ने बताया कि 12 जून की दोपहर उनके मोबाइल पर एक कॉल आया। सामने से बोल रहे व्यक्ति ने खुद को आयकर विभाग का डायरेक्टर सुमंत सिंहा बताया। साथ ही उसने कहा, डॉ. बीएस तोमर ने एक लड़की के साथ दुष्कर्म किया है। इसके सारे सबूत मेरे पास हैं। केस को दबाने के लिए उसने शोभा से रुपये की डिमांड की। 

मोती डूंगरी थाना पुलिस के अनुसार अगले दिन 13 जून को शोभा तोमर जयपुर से दिल्ली पहुंच गई। जहां पर आरोपी ने एक होटल में कमरा बुक कर रखा था। इस दौरान आरोपी ने शोभा को फोन कर कहा कि एक व्यक्ति को भेज रहा हूं उसे 75 हजार रुपए दे दो। कुछ देर बात वह सबूत लेकर आएगा। इसके बाद फोन कट गया। इसके कुछ देर बाद एक व्यक्ति आया रुपये लेकर चला गया। आरोपी का फोन नहीं आने पर डॉ. शोभा वापस जयपुर आ गईं। इसके बाद भी डॉ. शोभा के पास आरोपी के कॉल आते रहे। 13 से 21 जून के बीच हर दिन शोभा ने आरोपी को पैसे दिए, लेकिन उसने बीएस तोमर के खिलाफ दुष्कर्म का कोई भी सबूत नहीं दिया। 

13 जून से 21 जून के बीच डॉ. शोभा ने आरोपी को 14 लाख 32 हजार रुपये दे दिए। इसके बाद उन्हें शक हुआ कि आरोपी कहीं झूठ बोलकर तो उनसे रुपये नहीं ले रहा है। इसके बाद उन्होंने मोती डूंगरी थाने में आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कराया। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।  



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.