Rajasthan: पति ने तीन तलाक दिया तो पत्नी ने जहर खाकर दी जान, ससुर बहू पर रखता था बुरी नजर 


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, अलवर
Published by: उदित दीक्षित
Updated Sun, 26 Jun 2022 05:46 PM IST

ख़बर सुनें

राजस्थान के अलवर जिले के भिवाड़ी में तीन तलाक देने का मामला सामने आया है। मामला सिर्फ तीन तलाक का ही नहीं है। महिला के पति ने उसे तीन तलाक कहा तो उसने आत्महत्या कर ली। उसके परिजनों का आरोप है कि ससुराल वाले उसे दहेज के लिए परेशान करते थे। साथ ही उसका ससुर उस पर बुरी नजर भी रखता था। 

मृतका के परिजनों ने पुलिस को बताया कि 14 मार्च 2021 को मनीषा (20)  निवासी भोंकर गांव की शादी इम्तियाज (23) निवासी नूंह के सिकरावा गांव से हुई थी। उसके माता-पिता की मौत बचपन में ही हो गई थी। उसके चाचा जाहूल खां ने उसे पाला और उसका निकाह कराया था। अपनी हैसियत के अनुसार उन्होंने मनीषा की शादी धूमधाम से की थी। महंगी बाइक के साथ उन्होंने 1.61 लाख का कैश भी उन्होंने निकाह में दिया था। इसके कुछ दिन बाद ही ससुराल वालों ने उसे दहेज के लिए परेशान करना शुरू कर दिया। सास-ससुर और पति इम्तियाज मनीषा को दहेज के लिए ताने मारते थे। 

मृतका के चाचा का आरोप है कि उसका ससुर मनीषा पर बुरी नजर रखता था। गंदी नीयत से कई बार उसका हाथ भी पकड़ चुका था। इसकी शिकायत उसने अपने पति से की तो वह नाराज हो गया। साथ ही तीन बार तलाक कहकर घर से निकाल दिया। इसके बाद 11 मई को मनीषा ने ससुराल वालों के खिलाफ थाने में दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज कराया। पीड़िता की दादी से उसके ससुराल वालों ने उसे साथ रखने को मना कर दिया है। करीब दो महीने तक पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। इससे वह तनाव में थी। आखिर में उसने शनिवार को जहर खाकर आत्महत्या कर ली।  

विस्तार

राजस्थान के अलवर जिले के भिवाड़ी में तीन तलाक देने का मामला सामने आया है। मामला सिर्फ तीन तलाक का ही नहीं है। महिला के पति ने उसे तीन तलाक कहा तो उसने आत्महत्या कर ली। उसके परिजनों का आरोप है कि ससुराल वाले उसे दहेज के लिए परेशान करते थे। साथ ही उसका ससुर उस पर बुरी नजर भी रखता था। 

मृतका के परिजनों ने पुलिस को बताया कि 14 मार्च 2021 को मनीषा (20)  निवासी भोंकर गांव की शादी इम्तियाज (23) निवासी नूंह के सिकरावा गांव से हुई थी। उसके माता-पिता की मौत बचपन में ही हो गई थी। उसके चाचा जाहूल खां ने उसे पाला और उसका निकाह कराया था। अपनी हैसियत के अनुसार उन्होंने मनीषा की शादी धूमधाम से की थी। महंगी बाइक के साथ उन्होंने 1.61 लाख का कैश भी उन्होंने निकाह में दिया था। इसके कुछ दिन बाद ही ससुराल वालों ने उसे दहेज के लिए परेशान करना शुरू कर दिया। सास-ससुर और पति इम्तियाज मनीषा को दहेज के लिए ताने मारते थे। 

मृतका के चाचा का आरोप है कि उसका ससुर मनीषा पर बुरी नजर रखता था। गंदी नीयत से कई बार उसका हाथ भी पकड़ चुका था। इसकी शिकायत उसने अपने पति से की तो वह नाराज हो गया। साथ ही तीन बार तलाक कहकर घर से निकाल दिया। इसके बाद 11 मई को मनीषा ने ससुराल वालों के खिलाफ थाने में दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज कराया। पीड़िता की दादी से उसके ससुराल वालों ने उसे साथ रखने को मना कर दिया है। करीब दो महीने तक पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। इससे वह तनाव में थी। आखिर में उसने शनिवार को जहर खाकर आत्महत्या कर ली।  



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.