Rajasthan: प्रदेश में पेट्रोल-डीजल की किल्लत, ड्राई होने की कगार पर 2500 पंप 


न्यूूज डेस्क, अमर उजाला, जयपुर
Published by: रोमा रागिनी
Updated Tue, 14 Jun 2022 07:42 AM IST

ख़बर सुनें

जयपुर सहित राजस्थान के सैकड़ों पंपों पर डीजल बिक्री बंद हो गई है। ऐसे में प्रदेश में मंगलवार से पेट्रोल और डीजल की किल्लत शुरू हो सकती है। एचपीसीएल और बीपीसीएल कंपनी ने पेट्रोल और डीजल की आपूर्ति रोक दी है। ऐसे में प्रदेशभर के तकरीबन 2500 पेट्रोल पंप ड्राई होने की कगार पर हैं। 

राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन ने इसे लेकर एसोसिएशन की ओर से पेट्रोलियम मंत्री हरदीप पुरी को पत्र भी लिखा है। राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सुनीत बगई का कहना है कि प्रदेश में एचपीसीएल और बीपीसीएल कंपनी की ओर से पेट्रोल पंप डीलर्स को कंपनी स्तर पर पेट्रोल-डीजल की आपूर्ति नहीं दी जा रही। जिसके बाद पेट्रोल पंप ड्राई होने से उपभोक्ताओं को परेशानियों आ रही हैं।

बगई का कहना है कि पिछले तीन दिन से एचपीसीएल और बीपीसीएल के डीलर्स को कंपनी स्तर पर डिपो से पेट्रोल-डीजल की आपूर्ति नहीं मिल रही हैं। जिसके कारण प्रदेश के बहुत से पंप आपूर्ति के अभाव में ड्राई हो गए हैं। बहुत से होने वाले हैं। इस तरह डिपो से आपूर्ति नहीं मिलने के कारण प्रदेश में पेट्रोल-डीजल की किल्लत शुरू हो गई है। इससे उपभोक्ताओं को बहुत ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

विस्तार

जयपुर सहित राजस्थान के सैकड़ों पंपों पर डीजल बिक्री बंद हो गई है। ऐसे में प्रदेश में मंगलवार से पेट्रोल और डीजल की किल्लत शुरू हो सकती है। एचपीसीएल और बीपीसीएल कंपनी ने पेट्रोल और डीजल की आपूर्ति रोक दी है। ऐसे में प्रदेशभर के तकरीबन 2500 पेट्रोल पंप ड्राई होने की कगार पर हैं। 


राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन ने इसे लेकर एसोसिएशन की ओर से पेट्रोलियम मंत्री हरदीप पुरी को पत्र भी लिखा है। राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सुनीत बगई का कहना है कि प्रदेश में एचपीसीएल और बीपीसीएल कंपनी की ओर से पेट्रोल पंप डीलर्स को कंपनी स्तर पर पेट्रोल-डीजल की आपूर्ति नहीं दी जा रही। जिसके बाद पेट्रोल पंप ड्राई होने से उपभोक्ताओं को परेशानियों आ रही हैं।


बगई का कहना है कि पिछले तीन दिन से एचपीसीएल और बीपीसीएल के डीलर्स को कंपनी स्तर पर डिपो से पेट्रोल-डीजल की आपूर्ति नहीं मिल रही हैं। जिसके कारण प्रदेश के बहुत से पंप आपूर्ति के अभाव में ड्राई हो गए हैं। बहुत से होने वाले हैं। इस तरह डिपो से आपूर्ति नहीं मिलने के कारण प्रदेश में पेट्रोल-डीजल की किल्लत शुरू हो गई है। इससे उपभोक्ताओं को बहुत ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.