Rajasthan: भरतपुर एसीबी की कार्रवाई, एक्साइज इंस्पेक्टर और दलाल 50 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार


न्यूूज डेस्क, अमर उजाला, भरतपुर
Published by: रोमा रागिनी
Updated Wed, 08 Jun 2022 08:32 AM IST

ख़बर सुनें

भरतपुर एसीबी टीम ने बयाना आबकारी सर्किल के एक्साइज इंस्पेक्टर पुनीत शर्मा और उसके दलाल श्यामवीर सिंह त्यागी को 50 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। आरोपी ने शराब दुकान संचालक से वसूली और दो दुकानों की लोकेशन तय करने के एवज में घूस मांगी थी।

इंस्पेक्टर के साथ गिरफ्तार दलाल पुनित शर्मा के निजी ड्राइवर के रूप में काम करता है। टीम ने दलाल की पैंट की जेब से रिश्वत की राशि को बरामद की है। एसीबी के इंस्पेक्टर नवल किशोर मीणा ने बताया कि ओमवीर सिंह ने छह जून को एसीबी को शिकायत की थी। उसने बताया कि उसकी गांव बिनउया और पिचूना में शराब की लाइसेंस शुदा दो दुकानें हैं। एक्साइज इंस्पेक्टर पुनीत शर्मा अपने दलाल श्यामवीर सिंह त्यागी के जरिए दोनों दुकानों की लोकेशन तय करने और दुकानों के संचालन के लिए मंथली एक लाख रुपये की डिमांड कर रहा है। एसीबी ने शिकायत के सत्यापन के बाद ट्रैप की कार्रवाई की। 

एक्साइज इंस्पेक्टर ने अपने ड्राइवर दलाल के जरिए 20 हजार रुपये पहले ही ले लिए थे। इसके बाद सौदा 70 हजार में तय हुआ। जिसके बाद 50 हजार रुपये लेते एसीबी ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार दोनों आरोपियों के आवासीय ठिकानों पर भी तलाशी की जा रही है। 

विस्तार

भरतपुर एसीबी टीम ने बयाना आबकारी सर्किल के एक्साइज इंस्पेक्टर पुनीत शर्मा और उसके दलाल श्यामवीर सिंह त्यागी को 50 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। आरोपी ने शराब दुकान संचालक से वसूली और दो दुकानों की लोकेशन तय करने के एवज में घूस मांगी थी।


इंस्पेक्टर के साथ गिरफ्तार दलाल पुनित शर्मा के निजी ड्राइवर के रूप में काम करता है। टीम ने दलाल की पैंट की जेब से रिश्वत की राशि को बरामद की है। एसीबी के इंस्पेक्टर नवल किशोर मीणा ने बताया कि ओमवीर सिंह ने छह जून को एसीबी को शिकायत की थी। उसने बताया कि उसकी गांव बिनउया और पिचूना में शराब की लाइसेंस शुदा दो दुकानें हैं। एक्साइज इंस्पेक्टर पुनीत शर्मा अपने दलाल श्यामवीर सिंह त्यागी के जरिए दोनों दुकानों की लोकेशन तय करने और दुकानों के संचालन के लिए मंथली एक लाख रुपये की डिमांड कर रहा है। एसीबी ने शिकायत के सत्यापन के बाद ट्रैप की कार्रवाई की। 


एक्साइज इंस्पेक्टर ने अपने ड्राइवर दलाल के जरिए 20 हजार रुपये पहले ही ले लिए थे। इसके बाद सौदा 70 हजार में तय हुआ। जिसके बाद 50 हजार रुपये लेते एसीबी ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार दोनों आरोपियों के आवासीय ठिकानों पर भी तलाशी की जा रही है। 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.