Rajasthan: भाजपा पर भड़के सीएम गहलोत, बोले- हमें कांग्रेस हेड हेडक्वार्टर में जाने से रोकना पड़ेगा भारी


न्यूूज डेस्क, अमर उजाला, जयपुर
Published by: रोमा रागिनी
Updated Wed, 15 Jun 2022 02:04 PM IST

ख़बर सुनें

राहुल गांधी से ईडी की पूछताछ और दिल्ली में कांग्रेस नेताओं को पार्टी दफ्तर नहीं जाने देने के मुद्दे पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भाजपा पर जमकर जुबानी हमला बोला है। सीएम गहलोत ने कहा कि इनकी हिम्मत कैसे हुई कि हमारे नेताओं को कांग्रेस मुख्यालय में जाने से रोक दिया। ये दुस्साहस भाजपा को भारी पड़ेगा।

सीएम गहलोत ने दिल्ली में कांग्रेस के राष्ट्रीय मुख्यालय में मीडिया से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कहा कि देश के इतिहास में कभी किसी राजनीतिक दल के दफ्तर में आने से कभी किसी को नहीं रोका गया। हमारे नेता दिल्ली आ रहे हैं तो रास्ते में गिरफ्तार कर रहे हैं। हमने सीबीआई, सीबीडीटी, ईडी प्रमुखों से मिलने का वक्त मांगा लेकिन मिलने का समय नहीं दिया। ये समय काले इतिहास में दर्ज किया जाएगा। हम आगे जरूरत पड़ी तो पीएम, राष्ट्रपति से मिलने का समय मांगेंगे और अपनी बात कहेंगे।

सीएम गहलोत ने राहुल गांधी और सोनिया गांधी पर ईडी की नोटिस पर भी टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि ईडी के नोटिस केवल तंग करने के लिए दिए गए हैं। इंदिरा गांधी को इन्हीं लोगों के दबाव में मोराजी देसाई के गृह मंत्री रहते जेल में डाल दिया था। उस समय हम सब जेल भरो आंदोलन के तहत जेल गए थे। भाजपा को यह हरकत भारी पड़ेगी।

उन्होंने कहा कि देश में गली-गली में आज तनाव है। लोग भय में जी रहे हैं। प्रधानमंत्री से 13 विपक्षी पार्टियों ने मांग की है कि वे देश को संबोधित करें। मैं पीएम मोदी से हाथ जोड़कर प्रार्थना करता हूं कि आप देश को संबोधित करें और हिंसा की निंदा करें। 

विस्तार

राहुल गांधी से ईडी की पूछताछ और दिल्ली में कांग्रेस नेताओं को पार्टी दफ्तर नहीं जाने देने के मुद्दे पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भाजपा पर जमकर जुबानी हमला बोला है। सीएम गहलोत ने कहा कि इनकी हिम्मत कैसे हुई कि हमारे नेताओं को कांग्रेस मुख्यालय में जाने से रोक दिया। ये दुस्साहस भाजपा को भारी पड़ेगा।

सीएम गहलोत ने दिल्ली में कांग्रेस के राष्ट्रीय मुख्यालय में मीडिया से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कहा कि देश के इतिहास में कभी किसी राजनीतिक दल के दफ्तर में आने से कभी किसी को नहीं रोका गया। हमारे नेता दिल्ली आ रहे हैं तो रास्ते में गिरफ्तार कर रहे हैं। हमने सीबीआई, सीबीडीटी, ईडी प्रमुखों से मिलने का वक्त मांगा लेकिन मिलने का समय नहीं दिया। ये समय काले इतिहास में दर्ज किया जाएगा। हम आगे जरूरत पड़ी तो पीएम, राष्ट्रपति से मिलने का समय मांगेंगे और अपनी बात कहेंगे।


सीएम गहलोत ने राहुल गांधी और सोनिया गांधी पर ईडी की नोटिस पर भी टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि ईडी के नोटिस केवल तंग करने के लिए दिए गए हैं। इंदिरा गांधी को इन्हीं लोगों के दबाव में मोराजी देसाई के गृह मंत्री रहते जेल में डाल दिया था। उस समय हम सब जेल भरो आंदोलन के तहत जेल गए थे। भाजपा को यह हरकत भारी पड़ेगी।

उन्होंने कहा कि देश में गली-गली में आज तनाव है। लोग भय में जी रहे हैं। प्रधानमंत्री से 13 विपक्षी पार्टियों ने मांग की है कि वे देश को संबोधित करें। मैं पीएम मोदी से हाथ जोड़कर प्रार्थना करता हूं कि आप देश को संबोधित करें और हिंसा की निंदा करें। 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.