Rajasthan: मामा के यहां घूमने आई 13 साल की बच्ची खेलते हुए नहर में गिरी, एसडीआरएफ के जवान तलाश में जुटे 


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, बीकानेर
Published by: उदित दीक्षित
Updated Sat, 11 Jun 2022 04:24 PM IST

ख़बर सुनें

राजस्थान के बीकानेर में इंदिरा गांधी नहर में तेरह साल की एक बच्ची शुक्रवार शाम गिर गई। शनिवार सुबह से उसे ढूंढने के लिए छत्तरगढ़ पुलिस और एसडीआरएफ के जवान जुटे हुए हैं। अब तक कोई सुराग नहीं मिलने से परिजनों की चिंता बढ़ गई है।

छत्तरगढ़ में मुख्य नहर के आसपास गायत्री नामक लड़की खेल रही थी। इस दौरान उसका पैर फिसल गया। वो सीधे नहर में जा गिरी। साथ खेल रहे बच्चों ने परिजनों को सूचना दी। बड़ी संख्या में लोग मौके पर भी पहुंचे लेकिन उसका सुराग नहीं मिला। बाद में पुलिस को सूचना दी गई। देर रात ज्यादा राहत कार्य नहीं हो पाया लेकिन शनिवार सुबह से सीओ खाजूवाला अंजुम कयाल ने एसडीआरएफ के जवानों को नहर में उतार दिया। नाव पर जवानों ने कई किमी तक खंगाल लिया, लेकिन पता नहीं चला।

आशंका है कि बहती हुई गायत्री काफी दूर निकल गई है। नहर के गेट्स बंद करके भी उसे ढूंढने का प्रयास किया जा रहा है। इंदिरा गांधी नहर की RD 522-523 के पास ही गायत्री अपने मामा के घर आई हुई थी। वो दिनभर खेत में ही खेल रही थी, लेकिन शाम होते होते बच्चे बाहर नहर के पास खेलने लगे। इस दौरान कब वो नहर के किनारे पर पहुंच गए, इसका पता नहीं चला। हादसे के बाद से गायत्री के परिवार की हालत खराब है। पुलिस के साथ गायत्री के परिजन और ग्रामीण भी ढूंढने का प्रयास कर रहे हैं। 

विस्तार

राजस्थान के बीकानेर में इंदिरा गांधी नहर में तेरह साल की एक बच्ची शुक्रवार शाम गिर गई। शनिवार सुबह से उसे ढूंढने के लिए छत्तरगढ़ पुलिस और एसडीआरएफ के जवान जुटे हुए हैं। अब तक कोई सुराग नहीं मिलने से परिजनों की चिंता बढ़ गई है।

छत्तरगढ़ में मुख्य नहर के आसपास गायत्री नामक लड़की खेल रही थी। इस दौरान उसका पैर फिसल गया। वो सीधे नहर में जा गिरी। साथ खेल रहे बच्चों ने परिजनों को सूचना दी। बड़ी संख्या में लोग मौके पर भी पहुंचे लेकिन उसका सुराग नहीं मिला। बाद में पुलिस को सूचना दी गई। देर रात ज्यादा राहत कार्य नहीं हो पाया लेकिन शनिवार सुबह से सीओ खाजूवाला अंजुम कयाल ने एसडीआरएफ के जवानों को नहर में उतार दिया। नाव पर जवानों ने कई किमी तक खंगाल लिया, लेकिन पता नहीं चला।

आशंका है कि बहती हुई गायत्री काफी दूर निकल गई है। नहर के गेट्स बंद करके भी उसे ढूंढने का प्रयास किया जा रहा है। इंदिरा गांधी नहर की RD 522-523 के पास ही गायत्री अपने मामा के घर आई हुई थी। वो दिनभर खेत में ही खेल रही थी, लेकिन शाम होते होते बच्चे बाहर नहर के पास खेलने लगे। इस दौरान कब वो नहर के किनारे पर पहुंच गए, इसका पता नहीं चला। हादसे के बाद से गायत्री के परिवार की हालत खराब है। पुलिस के साथ गायत्री के परिजन और ग्रामीण भी ढूंढने का प्रयास कर रहे हैं। 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.