Rajasthan: युवक की मौत पर परिजन बोले- बेटे की हत्या की गई, होटल संचालक ने कहा- डूबने से गई जान 


ख़बर सुनें

अलवर जिले के नारायणपुर थाना इलाके में 4 जून को होटल शेखावत फार्म हॉउस में काम कर रहे युवक की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। मौत के बाद होटल के सीसीटीवी कैमरों की डीवीआर मौके से गायब मिली है। मृतक के परिजनों ने भी होटल संचालक भवानी सिंह सहित चार लोगों पर युवक की हत्या करने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया है।  

आरोपियों का कहना है कि युवक की मौत स्विमिंग पूल में डूबने के कारण हुई है। हालांकि, आरोपियों की इस बात पर आशंका जाहिर की जा रही है। क्योंकि, मृतक के चेहरे सहित शरीर पर कई जगह चोट के निशान मिले हैं। उसके मुंह से झाग भी निकल रहा था। जिसे देखकर ऐसा लग रहा था कि उसे जहर दिया गया हो। परिजनों के आरोप के बाद तीन डॉक्टरों की टीम ने मेडिकल बोर्ड के जरिए मृतक का पोस्टमार्टम किया। इसके बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है।  

पुलिस के अनुसार अलवर के काला कुआं निवासी हर्ष गौतम उर्फ हरिओम पुत्र राजेंद्र को भवानी सिंह तुलसीवाला के पास स्थित अपनी होटल में वेटर का काम कराने की बात कह कर 31 मई को घर से लेकर आया था। मृतक के भाई ललित ने बताया कि उनकी पिछले 2 दिनों से उनके भाई से कोई बात नहीं हुई। 4 जून को उसकी हत्या कर दी गई। ललित ने भवानी सिंह, सुमित मोहन, लक्ष्य सोलंकी, सुरेश सोलंकी के खिलाफ हत्या सहित विभिन्न धाराओं में केस दर्जा कराया है।

एक आरोपी से था विवाद 
इससे पहले मृतक गौतम ने अरावली विहार थाने में लक्ष्य सोलंकी के खिलाफ मारपीट का केस दर्ज कराया था। आरोपी लक्ष्य ने इस केस में राजीनामा करने को लेकर गौतम के ऊपर दबाव बनाया था। परिजनों का आरोप है कि राजीनामा नहीं करने पर उसकी हत्या कर दी गई। इधर, पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। मौत के कारणों का पता पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही चल पाएगा।  

विस्तार

अलवर जिले के नारायणपुर थाना इलाके में 4 जून को होटल शेखावत फार्म हॉउस में काम कर रहे युवक की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। मौत के बाद होटल के सीसीटीवी कैमरों की डीवीआर मौके से गायब मिली है। मृतक के परिजनों ने भी होटल संचालक भवानी सिंह सहित चार लोगों पर युवक की हत्या करने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया है।  

आरोपियों का कहना है कि युवक की मौत स्विमिंग पूल में डूबने के कारण हुई है। हालांकि, आरोपियों की इस बात पर आशंका जाहिर की जा रही है। क्योंकि, मृतक के चेहरे सहित शरीर पर कई जगह चोट के निशान मिले हैं। उसके मुंह से झाग भी निकल रहा था। जिसे देखकर ऐसा लग रहा था कि उसे जहर दिया गया हो। परिजनों के आरोप के बाद तीन डॉक्टरों की टीम ने मेडिकल बोर्ड के जरिए मृतक का पोस्टमार्टम किया। इसके बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है।  

पुलिस के अनुसार अलवर के काला कुआं निवासी हर्ष गौतम उर्फ हरिओम पुत्र राजेंद्र को भवानी सिंह तुलसीवाला के पास स्थित अपनी होटल में वेटर का काम कराने की बात कह कर 31 मई को घर से लेकर आया था। मृतक के भाई ललित ने बताया कि उनकी पिछले 2 दिनों से उनके भाई से कोई बात नहीं हुई। 4 जून को उसकी हत्या कर दी गई। ललित ने भवानी सिंह, सुमित मोहन, लक्ष्य सोलंकी, सुरेश सोलंकी के खिलाफ हत्या सहित विभिन्न धाराओं में केस दर्जा कराया है।

एक आरोपी से था विवाद 

इससे पहले मृतक गौतम ने अरावली विहार थाने में लक्ष्य सोलंकी के खिलाफ मारपीट का केस दर्ज कराया था। आरोपी लक्ष्य ने इस केस में राजीनामा करने को लेकर गौतम के ऊपर दबाव बनाया था। परिजनों का आरोप है कि राजीनामा नहीं करने पर उसकी हत्या कर दी गई। इधर, पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। मौत के कारणों का पता पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही चल पाएगा।  



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.