Rajasthan: युवक को बेहोश होने तक बेरहमी से पीटा, हाथ-पैर की हडि्डयां टूटी, प्रेम-प्रसंग से जुड़ा है मामला 


ख़बर सुनें

राजस्थान के राजसमंद जिले में एक युवक को लोगों ने इतना पीटा कि उसके हाथ और पैर की हडि्डयां टूट गई। 10-15 लोगों ने युवक पर लात, घुसों, लाठी और डंडों से अनगिनत बार किए। युवक की मारपीट का वीडिया सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। बताया जा रहा है कि प्रेम-प्रसंग को लेकर उसके साथ मारपीट की गई है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार नाथद्वारा थाने के अनुसार घटना 17 जून की सालोर इलाके की है। 21 साल का पीड़ित कमलेश रूपावली गांव का निवासी है। उसके चाचा हीरालाल ने पुलिस को दी अपनी रिपोर्ट में बताया कि, बीते शुक्रवार को सालोर बस स्टैंड पर लपणी सालोर निवासी मांगीलाल गुर्जर, लक्ष्मण गुर्जर, बाबूलाल गुर्जर सहित करीब 15 लोग भतीजे कमलेश गुर्जर के साथ मारपीट कर रहे थे। 

वह मौके पर पहुंचा तो सभी लोग उसे कार में डालकर लपणी की ओर चले गए। यहां उसके हाथ-पैर बांधे और लाठी-डंडे व लात-घूंसे से पीटना शुरू कर दिया। आरोपियों ने उसे तब तक पीटा जब तक वह बेहोश नहीं हो गया। इस दौरान पीटाई में उसके हाथ-पैर की हड्डी भी टूट गई। गंभीर हालत में उसे नाथद्वारा अस्पताल लेकर पहुंचे। प्राथमिकी उपचार के बाद डॉक्टरों ने उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया। इधर, पुलिस ने मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। अन्य की तलाश की जा रही है।   

युवती को भगाकर ले गया था 
5 जनवरी को कमलेश गांव की ही एक युवती को भगाकर ले गया था। अगले दिन युवती के पिता ने उसके खिलाफ नाथद्वारा थाने में बेटी को भगाकर ले जाने का केस दर्ज करवाया था। तीन महीने बाद 7 अप्रैल को पुलिस ने उन्हें पकड़कर परिजनों के हवाले कर दिया था। युवती के परिजनों ने 13 दिन बाद 20 अप्रैल को उसकी शादी करा दी। आरोप है कि इसके बाद से कमलेश युवती को परेशान कर रहा था। इसी कारण से युवती के परिजनों ने उसके साथ मारपीट की है। 

विस्तार

राजस्थान के राजसमंद जिले में एक युवक को लोगों ने इतना पीटा कि उसके हाथ और पैर की हडि्डयां टूट गई। 10-15 लोगों ने युवक पर लात, घुसों, लाठी और डंडों से अनगिनत बार किए। युवक की मारपीट का वीडिया सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। बताया जा रहा है कि प्रेम-प्रसंग को लेकर उसके साथ मारपीट की गई है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार नाथद्वारा थाने के अनुसार घटना 17 जून की सालोर इलाके की है। 21 साल का पीड़ित कमलेश रूपावली गांव का निवासी है। उसके चाचा हीरालाल ने पुलिस को दी अपनी रिपोर्ट में बताया कि, बीते शुक्रवार को सालोर बस स्टैंड पर लपणी सालोर निवासी मांगीलाल गुर्जर, लक्ष्मण गुर्जर, बाबूलाल गुर्जर सहित करीब 15 लोग भतीजे कमलेश गुर्जर के साथ मारपीट कर रहे थे। 

वह मौके पर पहुंचा तो सभी लोग उसे कार में डालकर लपणी की ओर चले गए। यहां उसके हाथ-पैर बांधे और लाठी-डंडे व लात-घूंसे से पीटना शुरू कर दिया। आरोपियों ने उसे तब तक पीटा जब तक वह बेहोश नहीं हो गया। इस दौरान पीटाई में उसके हाथ-पैर की हड्डी भी टूट गई। गंभीर हालत में उसे नाथद्वारा अस्पताल लेकर पहुंचे। प्राथमिकी उपचार के बाद डॉक्टरों ने उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया। इधर, पुलिस ने मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। अन्य की तलाश की जा रही है।   

युवती को भगाकर ले गया था 

5 जनवरी को कमलेश गांव की ही एक युवती को भगाकर ले गया था। अगले दिन युवती के पिता ने उसके खिलाफ नाथद्वारा थाने में बेटी को भगाकर ले जाने का केस दर्ज करवाया था। तीन महीने बाद 7 अप्रैल को पुलिस ने उन्हें पकड़कर परिजनों के हवाले कर दिया था। युवती के परिजनों ने 13 दिन बाद 20 अप्रैल को उसकी शादी करा दी। आरोप है कि इसके बाद से कमलेश युवती को परेशान कर रहा था। इसी कारण से युवती के परिजनों ने उसके साथ मारपीट की है। 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.