Rajasthan: सांसद नवनीत राणा बोलीं- ‘अग्निपथ’ को बिना समझे हो रहा विरोध, नुपूर का बयान गलत नहीं, यह भी कहा… 


ख़बर सुनें

महाराष्ट्र के अमरावती से सांसद नवनीत राणा राजस्थान प्रवास पर है। सांसद नवनीत और उनके विधायक पति रवि राणा लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के साथ कोटा प्रवास आईं हैं। सांसद नवनीत राणा ने मीडिया से चर्चा के दौरान कई ज्वलंत मुद्दों पर अपनी बात रखी।

केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना को उन्होंने देश के युवाओं के लिए बेहतर बताया। उन्होंने कहा, केंद्र की किसी भी योजना को बिना समझे ही उसका विरोध शुरू कर दिया जाता है। यह योजना युवाओं के लिए देश सेवा और रोजगार का एक अच्छा अवसर है। 

सांसद नवनीत राणा ने नुपूर शर्मा द्वारा पैगंबर मुहम्मद पर की गई कथित विवादित टिप्पणी पर भी अपनी राय रखी। उन्होंने नुपूर शर्मा का समर्थन करते हुए कहा, उन्होंने कोई गलत बयान नहीं दिया था, और उसके बाद भी नुपूर ने मांफी मांग ली तो सारा विवाद खत्म हो जाना चाहिए। इस मामले को दबाने के खत्म करने के बजाय इसे तूल दिया जा रहा है। यह गलत है।
 

इसके अलावा नवनीत राणा ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर भी निशाना साधा। महिला सुरक्षा के सवाल पर उन्होंने कहा, इसे लेकर राज्य में बहुत काम करना बाकी है। महिला उत्पीड़न के मामले में राजस्थान पहले नंबर पर आता है, यहां बहन-बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। सरकार को महिलाओं की सुरक्षा के लिए कड़े कदम उठाने चाहिए।  

उधर, महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा को लेकर हुए विवाद पर भी नवनीत राणा ने अपनी बात रखी। उन्होंने कहा, आज अगर बाला साहब जिंदा होते तो बात ही कुछ और होती। उनके नहीं होने के कारण परिस्थितियां विपरीत हो गईं हैं। वह होते तो आज ऐसा कुछ नहीं हो रहा होता। बतादें कि राणा दंपति ने मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा पढ़ने का एलान किया था इसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। बाद में उन्हें कोर्ट से जमानत मिली थी।  

विस्तार

महाराष्ट्र के अमरावती से सांसद नवनीत राणा राजस्थान प्रवास पर है। सांसद नवनीत और उनके विधायक पति रवि राणा लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के साथ कोटा प्रवास आईं हैं। सांसद नवनीत राणा ने मीडिया से चर्चा के दौरान कई ज्वलंत मुद्दों पर अपनी बात रखी।

केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना को उन्होंने देश के युवाओं के लिए बेहतर बताया। उन्होंने कहा, केंद्र की किसी भी योजना को बिना समझे ही उसका विरोध शुरू कर दिया जाता है। यह योजना युवाओं के लिए देश सेवा और रोजगार का एक अच्छा अवसर है। 

सांसद नवनीत राणा ने नुपूर शर्मा द्वारा पैगंबर मुहम्मद पर की गई कथित विवादित टिप्पणी पर भी अपनी राय रखी। उन्होंने नुपूर शर्मा का समर्थन करते हुए कहा, उन्होंने कोई गलत बयान नहीं दिया था, और उसके बाद भी नुपूर ने मांफी मांग ली तो सारा विवाद खत्म हो जाना चाहिए। इस मामले को दबाने के खत्म करने के बजाय इसे तूल दिया जा रहा है। यह गलत है।

 

इसके अलावा नवनीत राणा ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर भी निशाना साधा। महिला सुरक्षा के सवाल पर उन्होंने कहा, इसे लेकर राज्य में बहुत काम करना बाकी है। महिला उत्पीड़न के मामले में राजस्थान पहले नंबर पर आता है, यहां बहन-बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। सरकार को महिलाओं की सुरक्षा के लिए कड़े कदम उठाने चाहिए।  

उधर, महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा को लेकर हुए विवाद पर भी नवनीत राणा ने अपनी बात रखी। उन्होंने कहा, आज अगर बाला साहब जिंदा होते तो बात ही कुछ और होती। उनके नहीं होने के कारण परिस्थितियां विपरीत हो गईं हैं। वह होते तो आज ऐसा कुछ नहीं हो रहा होता। बतादें कि राणा दंपति ने मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा पढ़ने का एलान किया था इसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। बाद में उन्हें कोर्ट से जमानत मिली थी।  



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.