Rajasthan: सीएम गहलोत ने बताए, ‘मोदी है तो मुमकिन है’ के मायने, महाराष्ट्र में उठे सियासी संकट पर यह बोले


ख़बर सुनें

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंगलवार को एआईसीसी में मीडिया से बात करते हुए पीएम मोदी पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि मोदी है तो देश को सबकुछ मुमकिन है। जुर्म भी है, अन्याय भी है, अत्याचार भी है, उत्पीड़न भी है और सबकुछ संभव है। 

महाराष्ट्र के अंदर जो षड्यंत्र किया गया है। आप सोचिए कि क्या यह लोग (भाजपा) देश के अंदर गवर्नेंस कर रहे हैं? महंगाई है, बेरोजगारी है और देश की अर्थव्यवस्था ध्वस्त हो रही है। ईडी का नोटिस सोनिया गांधी को और राहुल गांधी को दिया जा रहा है। बच्चों को गुमराह करने के लिए अग्निपथ लेकर आ रहे हो, आप चाहते क्या हैं? 

सीएम गहलोत ने कहा, प्रधानमंत्री मोदीजी देशवासियों से शांति, सद्भाव और भाईचारा बनाए रखने के लिए एक अपील नहीं कर पा रहे हैं। हिंसा को कोई हमारी सरकार बर्दाश्त नहीं करेगी, राज्य सरकार जहां हिंसा होती है उसको बर्दाश्त नहीं करेंगे। यह कहने में भी मोदीजी को हर्ज है। हम लोग मुख्यमंत्री के रूप में अपील करने की मांग करते हैं, पर न तो मोदीजी और न ही अमित शाहजी अपील कर रहे हैं। आप लोग सोच सकते हो कि देश किस दिशा में जा रहा है।

उन्होंने कहा, जहां अशांति होती है, झगड़े होते हैं, हिंसा होती है, वहां विकास होता है क्या? देश के अंदर तो हालात बड़े गंभीर। अब महाराष्ट्र सरकार को गिराने का प्रयास हो रहा है। इन्होंने कितना बड़ा षड्यंत्र किया है। कैसे हॉर्स ट्रेडिंग हो रही होगी, क्या सौदे हो रहे होंगे? यह तो वो (भाजपा) जानें और उनकी आत्मा जाने।

विस्तार

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंगलवार को एआईसीसी में मीडिया से बात करते हुए पीएम मोदी पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि मोदी है तो देश को सबकुछ मुमकिन है। जुर्म भी है, अन्याय भी है, अत्याचार भी है, उत्पीड़न भी है और सबकुछ संभव है। 

महाराष्ट्र के अंदर जो षड्यंत्र किया गया है। आप सोचिए कि क्या यह लोग (भाजपा) देश के अंदर गवर्नेंस कर रहे हैं? महंगाई है, बेरोजगारी है और देश की अर्थव्यवस्था ध्वस्त हो रही है। ईडी का नोटिस सोनिया गांधी को और राहुल गांधी को दिया जा रहा है। बच्चों को गुमराह करने के लिए अग्निपथ लेकर आ रहे हो, आप चाहते क्या हैं? 

सीएम गहलोत ने कहा, प्रधानमंत्री मोदीजी देशवासियों से शांति, सद्भाव और भाईचारा बनाए रखने के लिए एक अपील नहीं कर पा रहे हैं। हिंसा को कोई हमारी सरकार बर्दाश्त नहीं करेगी, राज्य सरकार जहां हिंसा होती है उसको बर्दाश्त नहीं करेंगे। यह कहने में भी मोदीजी को हर्ज है। हम लोग मुख्यमंत्री के रूप में अपील करने की मांग करते हैं, पर न तो मोदीजी और न ही अमित शाहजी अपील कर रहे हैं। आप लोग सोच सकते हो कि देश किस दिशा में जा रहा है।

उन्होंने कहा, जहां अशांति होती है, झगड़े होते हैं, हिंसा होती है, वहां विकास होता है क्या? देश के अंदर तो हालात बड़े गंभीर। अब महाराष्ट्र सरकार को गिराने का प्रयास हो रहा है। इन्होंने कितना बड़ा षड्यंत्र किया है। कैसे हॉर्स ट्रेडिंग हो रही होगी, क्या सौदे हो रहे होंगे? यह तो वो (भाजपा) जानें और उनकी आत्मा जाने।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.