Rajasthan News: श्रीगंगानगर के पदमपुर थाने का हेड कांस्टेबल हुआ हनीट्रैप का शिकार, 3 महिलाएं गिरफ्तार


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, श्रीगंगानगर
Published by: रवींद्र भजनी
Updated Fri, 24 Jun 2022 11:30 AM IST

ख़बर सुनें

आमतौर पर हनीट्रैप में फंसे लोगों को बचाने के लिए पुलिस की मदद ली जाती है। जिले के पदमपुर में एक ऐसा मामला सामने आया है, जहां एक महिला सीएलजी सदस्य ने थाने की एक हेड कांस्टेबल को हनीट्रैप का शिकार बना लिया। उससे चार लाख रुपये की डिमांड भी कर डाली। मामला तब सामने आया जब सीएलजी की एक महिला सदस्य ने हेड कांस्टेबल का अश्लील वीडियो क्लिप बनाया। उससे चार लाख रुपये की मांग की। पुलिस ने हेड कांस्टेबल की शिकायत के आधार पर तीन महिलाओं को गिरफ्तार किया है। पुलिस की गिरफ्त में आई इन आरोपी महिलाओं के ऐसे कई अन्य मामलों में शामिल होने का संदेह है। इस संबंध में पुलिस को और भी शिकायतें मिल रही हैं।

यह मामला जिले के पदमपुर थाने का है। बुधवार देर रात कांस्टेबल गुरदेव सिंह ने इस संबंध में मामला दर्ज कराया। उन्होंने कहा कि थाने की सीएलजी सदस्य सुखप्रीत कौर ने उसे अपने घर बुलाया। उसने बताया कि इलाके की एक लापता लड़की उसके घर पर है। आरक्षक जब सीएलजी सदस्य के घर पहुंचा, तो उसने उसे घर के अंदर एक कमरे में बंद कर दिया। दरवाजा बाहर से बंद कर दिया। मौके पर आरोपी महिला के साथ एक अन्य महिला भी मौजूद थी। जिसने उसकी अश्लील क्लिप बनाई। पुलिस ने मामले की मुख्य आरोपी सुखप्रीत कौर पत्नी तेजेंद्र सिंह (40) और पोकरराम नायक की 30 वर्षीय पत्नी विमला और आंचल की पत्नी मन्नू शर्मा को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी के मोबाइल से अश्लील क्लिप और 1,420 रुपये की लूट भी बरामद की है। पदमपुर थाने के हैड कांस्टेबल गुरदेव सिह ने बताया कि सीएलजी सदस्य सुखप्रीत कौर ने एक युवती की बरामदगी के मामले में उसे अपने घर बुलाया। फिर कमरे में बंद कर जबरन अश्लील वीडियो बना लिया। वीडियो वायरल कर बदनामी का डर दिखाकर चार लाख रुपये मांगे। घटना के 16 घंटे बाद पुलिस ने आरोपियों काे गिरफ्तार कर लिया। 

विस्तार

आमतौर पर हनीट्रैप में फंसे लोगों को बचाने के लिए पुलिस की मदद ली जाती है। जिले के पदमपुर में एक ऐसा मामला सामने आया है, जहां एक महिला सीएलजी सदस्य ने थाने की एक हेड कांस्टेबल को हनीट्रैप का शिकार बना लिया। उससे चार लाख रुपये की डिमांड भी कर डाली। मामला तब सामने आया जब सीएलजी की एक महिला सदस्य ने हेड कांस्टेबल का अश्लील वीडियो क्लिप बनाया। उससे चार लाख रुपये की मांग की। पुलिस ने हेड कांस्टेबल की शिकायत के आधार पर तीन महिलाओं को गिरफ्तार किया है। पुलिस की गिरफ्त में आई इन आरोपी महिलाओं के ऐसे कई अन्य मामलों में शामिल होने का संदेह है। इस संबंध में पुलिस को और भी शिकायतें मिल रही हैं।

यह मामला जिले के पदमपुर थाने का है। बुधवार देर रात कांस्टेबल गुरदेव सिंह ने इस संबंध में मामला दर्ज कराया। उन्होंने कहा कि थाने की सीएलजी सदस्य सुखप्रीत कौर ने उसे अपने घर बुलाया। उसने बताया कि इलाके की एक लापता लड़की उसके घर पर है। आरक्षक जब सीएलजी सदस्य के घर पहुंचा, तो उसने उसे घर के अंदर एक कमरे में बंद कर दिया। दरवाजा बाहर से बंद कर दिया। मौके पर आरोपी महिला के साथ एक अन्य महिला भी मौजूद थी। जिसने उसकी अश्लील क्लिप बनाई। पुलिस ने मामले की मुख्य आरोपी सुखप्रीत कौर पत्नी तेजेंद्र सिंह (40) और पोकरराम नायक की 30 वर्षीय पत्नी विमला और आंचल की पत्नी मन्नू शर्मा को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी के मोबाइल से अश्लील क्लिप और 1,420 रुपये की लूट भी बरामद की है। पदमपुर थाने के हैड कांस्टेबल गुरदेव सिह ने बताया कि सीएलजी सदस्य सुखप्रीत कौर ने एक युवती की बरामदगी के मामले में उसे अपने घर बुलाया। फिर कमरे में बंद कर जबरन अश्लील वीडियो बना लिया। वीडियो वायरल कर बदनामी का डर दिखाकर चार लाख रुपये मांगे। घटना के 16 घंटे बाद पुलिस ने आरोपियों काे गिरफ्तार कर लिया। 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.