उदयपुर हत्याकांड के विरोध में जयपुर में हिंदू समाज की हुंकार, संतों ने उठाई मदरसों को बंद करने की मांग; बताई ये वजह


राजस्थान के उदयपुर हत्याकांड के विरोध में आज राजधानी जयपुर में हिंदू संगठनों ने विरोध-प्रदर्शन किया। संगठनों के प्रतिनिधियों ने कहा कि राजस्थान को तालिबान नहीं बनने देंगे। स्टेचू सर्किल पर यह विशाल धरना प्रदर्शन किया गया। हिंदू समाज के आह्वान पर हुए इस सामूहिक प्रदर्शन का नेतृत्व संत समाज ने किया। हिंदू संगठनों (स्वयंसेवक संघ, विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल) के साथ कई सामाजिक और धार्मिक संगठन इसमें शामिल हुए। धरने को संबोधित करते हुए जयपुर सांसद रामचरण बोहरा ने कहा कि हत्याकांड को आरोपियों को फांसी की सजा दी जाए। मंच से वक्ता और नीचे मौजूद लोग हाथों में भगवा झंडा लेकर जयश्री राम के नाम का उद्घोष कर रहे थे। कार्यक्रम के दौरान मृतक कन्हैया लाल को यहां मौजूद लोगों ने अपनी श्रद्धांजलि भी दी गई। 

मदरसों को बंद करने उठी मांग 

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्रीय संघचालक रमेश चंद्र अग्रवाल ने मांग की कि मदरसों को बंद किया जाए। अग्रवाल ने कहा कि कहा कि जो आतंकवाद पनप रहा है उसका बड़ा कारण है कि कुछ लोग मजहब अपने अपने धर्म को सर्वश्रेष्ठ मानते हैं और दूसरे धर्मों के लोगों को काफिर मानते हैं. वो या तो काफिरों को मार देना चाहते है या फिर उनका धर्मांतरण कर देना चाहते हैं। अग्रवाल ने कहा यह जो मानसिकता पैदा हुई है उसको प्रश्रय देने का काम भी हमारे देश के कुछ तथाकथित सेक्यूलर राजनीतिक दल और सरकारें कर रही है। अग्रवाल ने इस दौरान राजस्थान में करौली हिंसा, भीलवाड़ा हिंसा और कोटा में पीएफ़आई को पैदल मार्च करने की दी गई अनुमति का भी उदाहरण दिया। संघ पदाधिकारी ने कहा अब भारत का समाज यह सब बर्दाश्त नहीं करेगा। 

जयपुर के सभी भाजपा नेता रहे मौजूद 

विरोध- प्रदर्शन में भाजपा नेता और कार्यकर्ताओं की संख्या ज्यादा रही। इनमें जयपुर शहर सांसद रामचरण बोहरा, विधायक कालीचरण सराफ, नरपत सिंह राजवी और डॉक्टर अशोक लाहोटी के साथ ही पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक प्रणामी, पूर्व विधायक सुरेंद्र पारीक, मोहनलाल गुप्ता के साथ ही जयपुर नगर निगम से जुड़े भाजपा के कई पार्षद और पार्टी से जुड़े कई पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे। 

कई इलाकों में ट्रैफिक जाम की समस्या रही

स्टेचू सर्किल पर सर्व हिंदू समाज के सामूहिक प्रदर्शन के चलते आज सी स्कीम, सिविल लाइंस, लाल कोठी, एमआई रोड, टोंक रोड, सहकार मार्ग,22 गौदाम सर्किल, सोडाला सहित कई इलाकों में ट्रैफिक जाम की समस्या बनी रही। प्रदर्शन में शामिल होने वाले लोगों की संख्या को देखते हुए यातायात पुलिस ने भी विशेष व्यवस्था की। प्रदर्शन में आने वाले लोगों के वाहन पार्किंग के लिए भी अलग-अलग स्थानों पर व्यवस्था की गई है। ट्रैफिक की स्थिति न बिगड़े इसको देखते हुए कुछ मार्गों पर यातायात में बदलाव किया गया। 
 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.