पुलिस के सामने जहर उगलने वाले मौलाना की गिरफ्तारी का विरोध, बंद रहीं दुकानें


भडकाऊ भाषण देने के मामले में आरोपी मौलाना नदीम अख्तर की गिरफ्तारी के बाद मुस्लिम समाज के लोगो ने अपनी दुकानों को रखा बंद। आज मौलाना को किया किया गया कोर्ट में पेश। कोर्ट से मौलाना को जमानत मिल गई है। ऐसे में एतिहात के तौर पर संभागीय आयुक्त ने इंटरनेट को रखा तीन जुलाई को दोपहर 12 बजे तक के लिए बंद रहेगा।

बता दें कि पुलिस की मौजूदगी में जहर उगलने वाले मौलाना मुफ्ती नदीम अख्तर को 28 दिन बाद गिरफ्तार किया गया। आरोपी मौलवी ने नूपुर शर्मा की ओर से पैगंबर पर की गई टिप्पणी के बाद बूंदी में आयोजित विरोध प्रदर्शन के दौरान भड़काऊ भाषण दिया था।

बूंदी जिला कलेक्ट्री के बाहर भडकाऊ भाषण देकर सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश करने वाले मौलाना नदीम अख्तर के खिलाफ हिंदू संगठनों ने विरोध दर्ज करवाते हुए बूंदी कोतवाली थाने में शिकायत दी थी। जिसपर पुलिस ने सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने, भड़काऊ भाषण देने सहित कई धाराओं में मामला दर्ज किया था। लेकिन प्रकरण दर्ज होने के बाद भी पुलिस ने आरोपी मौलाना को गिरफ्तार नहीं किया था। जिससे हिंदू संगठनों में काफी रोष भी देखने को मिला था।  

उदयपुर हत्याकांड के बाद मौलाना की गिरफ्तारी की मांग हुई थी तेज
राजस्थान के उदयपुर में कन्हैया लाल की बेरहमी से हत्या करने के बाद से ही राजस्थान में कई जगहों पर हिंदू संगठनों की ओर से प्रदर्शन और आक्रोश देखने को मिला। ऐसे में एक बार फिर बूंदी जिले के मौलाना द्वारा भडकाऊ भाषण देने का मामला भी उजागर हो गया और हिंदू संगठनों ने मौलाना को गिरफ्तार करने की मांग उठाना शुरू कर दी।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.