Rajasthan: प्रेम विवाह से नाराज परिजनों ने बेटी को बंधक बनाया, एक महीने के बेटे की मौत, जानें मामला


ख़बर सुनें

राजस्थान के पाली में एक बेटी ने अपने माता-पिता सहित परिवार के अन्य लोगो के खिलाफ केस दर्ज कराया। बेटी का आरोप है कि उसके परिवार वालों ने प्रेम विवाह करने के कारण उसे बंधक बना लिया, जिससे उसके एक महीने की बेटे की मौत हो गई। पीड़िता का कहना है कि उसके माता-पिता उसे एक दिन का कहकर घर ले गए थे, बाद में उसे बंधक बना लिया। न तो उसे पति बात करने दी और न ही घर जाने दिया। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।      

तखतगढ़ थाना पुलिस में रहने वाली कुसुम भाटी में अपने माता-पिता समेत कई लोगों के खिलाफ अपने बच्चे की जान लेने का केस दर्ज कराया है । पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है । घटना बेहद ही चौंकाने वाली है।  दो परिवारों की लड़ाई में सिर्फ 1 महीने के मासूम बच्चे की दर्दनाक मौत हो गई।  पुलिस नामजद आरोपियों से पूछताछ करने की तैयारी कर रही है। 

शहर के महावीर नगर में रहने वाली कुसुम भाटी ने तखतगढ़ थाने में केस दर्ज कराया है। कुसुम ने बताया कि 2019 में उसने अपने माता पिता की अनुमति के बिना शेषराम के साथ प्रेम विवाह किया था। इसके बाद से वह अपने पति के साथ रह रही थी। कुछ महीने तक माता-पिता ने उससे बात नहीं की, लेकिन इस साल फरवरी में वह उससे मिलने आए। इस दौरान उन्होंने उससे अपने साथ चलने के लिए कहा। एक दिन वह अपने माता-पिता के साथ जाने के लिए तैयार हो गई। वह अपने साथ एक महीने के बेटे को भी ले जाना चाह रही थी, लेकिन एक दिन बात कहकर उन्होंने मना कर दिया।  

कुसुम का आरोप है कि घर ले जाकर माता-पिता ने उसे बंधक बना लिया। घर भी नहीं जाने दिया और पति से भी बात नहीं करने दी। कुसुम ने पुलिस को बताया कि उसके दो बेटे हैं। एक डेढ़ साल और दूसरा एक महीने का है। छोटा बच्चा मां के दूध के लिए रोता रहा, लेकिन परिवारों ने मुझे पति के पास नहीं जाने दिया। कुछ दिन तक पति शेषराम ने बच्चे की देखभाल की, लेकिन आखिर में उसकी मौत हो गई।  

बेटे की मौत की जानकारी के बाद वह पति के पास पहुंची। उसने माता-पिता के खिलाफ केस दर्ज कराने की कोशिश की, लेकिन पुलिस ने केस दर्ज नहीं किया। आखिर में वह कोर्ट पहुंची, जहां से जारी आदेश के बाद पुलिस ने 20 जुलाई को केस दर्ज किया। पुलिस ने कुसुम के पिता सुरेश,  मां जेठा देवी,  मामा कैलाश और मामी विमला देवी को आरोपी बनाया है। 

विस्तार

राजस्थान के पाली में एक बेटी ने अपने माता-पिता सहित परिवार के अन्य लोगो के खिलाफ केस दर्ज कराया। बेटी का आरोप है कि उसके परिवार वालों ने प्रेम विवाह करने के कारण उसे बंधक बना लिया, जिससे उसके एक महीने की बेटे की मौत हो गई। पीड़िता का कहना है कि उसके माता-पिता उसे एक दिन का कहकर घर ले गए थे, बाद में उसे बंधक बना लिया। न तो उसे पति बात करने दी और न ही घर जाने दिया। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।      

तखतगढ़ थाना पुलिस में रहने वाली कुसुम भाटी में अपने माता-पिता समेत कई लोगों के खिलाफ अपने बच्चे की जान लेने का केस दर्ज कराया है । पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है । घटना बेहद ही चौंकाने वाली है।  दो परिवारों की लड़ाई में सिर्फ 1 महीने के मासूम बच्चे की दर्दनाक मौत हो गई।  पुलिस नामजद आरोपियों से पूछताछ करने की तैयारी कर रही है। 

शहर के महावीर नगर में रहने वाली कुसुम भाटी ने तखतगढ़ थाने में केस दर्ज कराया है। कुसुम ने बताया कि 2019 में उसने अपने माता पिता की अनुमति के बिना शेषराम के साथ प्रेम विवाह किया था। इसके बाद से वह अपने पति के साथ रह रही थी। कुछ महीने तक माता-पिता ने उससे बात नहीं की, लेकिन इस साल फरवरी में वह उससे मिलने आए। इस दौरान उन्होंने उससे अपने साथ चलने के लिए कहा। एक दिन वह अपने माता-पिता के साथ जाने के लिए तैयार हो गई। वह अपने साथ एक महीने के बेटे को भी ले जाना चाह रही थी, लेकिन एक दिन बात कहकर उन्होंने मना कर दिया।  

कुसुम का आरोप है कि घर ले जाकर माता-पिता ने उसे बंधक बना लिया। घर भी नहीं जाने दिया और पति से भी बात नहीं करने दी। कुसुम ने पुलिस को बताया कि उसके दो बेटे हैं। एक डेढ़ साल और दूसरा एक महीने का है। छोटा बच्चा मां के दूध के लिए रोता रहा, लेकिन परिवारों ने मुझे पति के पास नहीं जाने दिया। कुछ दिन तक पति शेषराम ने बच्चे की देखभाल की, लेकिन आखिर में उसकी मौत हो गई।  

बेटे की मौत की जानकारी के बाद वह पति के पास पहुंची। उसने माता-पिता के खिलाफ केस दर्ज कराने की कोशिश की, लेकिन पुलिस ने केस दर्ज नहीं किया। आखिर में वह कोर्ट पहुंची, जहां से जारी आदेश के बाद पुलिस ने 20 जुलाई को केस दर्ज किया। पुलिस ने कुसुम के पिता सुरेश,  मां जेठा देवी,  मामा कैलाश और मामी विमला देवी को आरोपी बनाया है। 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.