Rajasthan: मंत्री धारीवाल के घर के बाहर झाडू लेकर धरने पर बैठ सफाई कर्मचारी, रोड किया जाम


ख़बर सुनें

जयपुर नगर निगम ग्रेटर और हेरिटेज के सफाईकर्मियों ने गुरुवार को नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल के सरकारी आवास का घेराव कर प्रदर्शन किया। इस दौरान सफाई कर्मचारियों ने धारीवाल के घर के बाहर धरना भी दिया। इस कारण अस्पताल रोड करीब आधे घंटे तक जाम रहा।

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार सफाई कर्मचारियों के संगठन के चुनाव करवाने, आरजीएचएस स्कीम लागू करने समेत कुल छह मांगों को लेकर ये प्रदर्शन किया गया। नगर निगम जयपुर में साल 2018 में हुई सफाई कर्मचारियों की भर्ती के बाद से अब तक सफाई कर्मचारी संगठन के चुनाव नहीं हुए। 

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि 14 मार्च 2021 को सफाई कर्मचारी संगठन के पदाधिकारियों का कार्यकाल खत्म हो गया है। प्रशासन अब तक दोबारा चुनाव नहीं करवा रहा। इसी के विरोध में कर्मचारी झाडू लेकर नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल के घर पहुंच गए। यहां उन्होंने मंत्री से मुलाकात करने की मांग की। मंत्री धारीवाल घर पर नहीं होने पर कर्मचारी धरने पर बैठ गए। इसके बाद प्रदर्शन कर रहे कर्मचारियों में से पांच कर्मचारियों का एक संगठन स्वायत्त शासन निदेशालय में निदेशक के यहां वार्ता के लिए पहुंचा।

प्रदर्शन कर रहे कर्मचारियों ने चुनाव के अलावा नियुक्ति के बाद से कर्मचारियों का बकाया एरियर देने, जिन कर्मचारियों का अभी तक स्थायीकरण नहीं हुआ उनको स्थायी करने, कर्मचारियों के लिए शहर में जेसीटीएसएल की बसें फ्री करने और कर्मचारियों को बकाया वर्दी का भुगतान करने की भी मांग की है।

विस्तार

जयपुर नगर निगम ग्रेटर और हेरिटेज के सफाईकर्मियों ने गुरुवार को नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल के सरकारी आवास का घेराव कर प्रदर्शन किया। इस दौरान सफाई कर्मचारियों ने धारीवाल के घर के बाहर धरना भी दिया। इस कारण अस्पताल रोड करीब आधे घंटे तक जाम रहा।


मीडिया रिपोर्टस के अनुसार सफाई कर्मचारियों के संगठन के चुनाव करवाने, आरजीएचएस स्कीम लागू करने समेत कुल छह मांगों को लेकर ये प्रदर्शन किया गया। नगर निगम जयपुर में साल 2018 में हुई सफाई कर्मचारियों की भर्ती के बाद से अब तक सफाई कर्मचारी संगठन के चुनाव नहीं हुए। 


प्रदर्शनकारियों का कहना है कि 14 मार्च 2021 को सफाई कर्मचारी संगठन के पदाधिकारियों का कार्यकाल खत्म हो गया है। प्रशासन अब तक दोबारा चुनाव नहीं करवा रहा। इसी के विरोध में कर्मचारी झाडू लेकर नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल के घर पहुंच गए। यहां उन्होंने मंत्री से मुलाकात करने की मांग की। मंत्री धारीवाल घर पर नहीं होने पर कर्मचारी धरने पर बैठ गए। इसके बाद प्रदर्शन कर रहे कर्मचारियों में से पांच कर्मचारियों का एक संगठन स्वायत्त शासन निदेशालय में निदेशक के यहां वार्ता के लिए पहुंचा।

प्रदर्शन कर रहे कर्मचारियों ने चुनाव के अलावा नियुक्ति के बाद से कर्मचारियों का बकाया एरियर देने, जिन कर्मचारियों का अभी तक स्थायीकरण नहीं हुआ उनको स्थायी करने, कर्मचारियों के लिए शहर में जेसीटीएसएल की बसें फ्री करने और कर्मचारियों को बकाया वर्दी का भुगतान करने की भी मांग की है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.