Rajasthan: रक्षाबंधन पर बहनों को गहलोत सरकार का तोहफा, रोडवेज बसों में मिलेगी निशुल्क यात्रा की सुविधा


ख़बर सुनें

रक्षाबंधन पर्व को लेकर राजस्थान सरकार ने  बहनों को तोहफा दिया है। महिलाएं रक्षाबंधन के दिन राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम (आरएसआरटीसी) की बसों में निशुल्क यात्रा कर सकेंगी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने निशुल्क यात्रा के लिए प्रस्ताव का अनुमोदन किया है। 

सीएम गहलोत के इस निर्णय से बालिकाओं और महिलाओं को रक्षाबंधन के दिन 11 अगस्त को राजस्थान रोडवेज की समस्त श्रेणी की बसों में राजस्थान राज्य की सीमा में निशुल्क यात्रा की सुविधा मिलेगी। रोडवेज को उक्त सुविधा के व्यय का पुनर्भरण राज्य सरकार की ओर से किया जाएगा।

बता दें कि राजस्थान सरकार ने इससे पहले महिला दिवस पर भी महिलाओं को निशुल्क यात्रा का तोहफा दिया था। तब भी पूरे प्रदेशभर में हजारों महिलाओं और युवतियों ने रोडवेज बसों में निशुल्क यात्रा की थी। अब जल्द ही जेसीटीएसएल बसों में भी रक्षाबंधन पर निशुल्क यात्रा की सुविधा बालिकाओं और महिलाओं को दी जा सकती है। 

रक्षाबंधन के अवसर पर रोडवेज की बसों में ज्यादा भीड़ रहती है। ऐसे में रोडवेज प्रशासन महिलाओं के लिए विशेष व्यवस्थाएं करेगा। जिससे महिलाओं को लाइन में खड़े रहकर परेशान नहीं होना पड़े। इसके साथ ही रोडवेज बसों में बैठाने के लिए अलग से कर्मचारी लगाए जाएंगे।

विस्तार

रक्षाबंधन पर्व को लेकर राजस्थान सरकार ने  बहनों को तोहफा दिया है। महिलाएं रक्षाबंधन के दिन राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम (आरएसआरटीसी) की बसों में निशुल्क यात्रा कर सकेंगी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने निशुल्क यात्रा के लिए प्रस्ताव का अनुमोदन किया है। 


सीएम गहलोत के इस निर्णय से बालिकाओं और महिलाओं को रक्षाबंधन के दिन 11 अगस्त को राजस्थान रोडवेज की समस्त श्रेणी की बसों में राजस्थान राज्य की सीमा में निशुल्क यात्रा की सुविधा मिलेगी। रोडवेज को उक्त सुविधा के व्यय का पुनर्भरण राज्य सरकार की ओर से किया जाएगा।


बता दें कि राजस्थान सरकार ने इससे पहले महिला दिवस पर भी महिलाओं को निशुल्क यात्रा का तोहफा दिया था। तब भी पूरे प्रदेशभर में हजारों महिलाओं और युवतियों ने रोडवेज बसों में निशुल्क यात्रा की थी। अब जल्द ही जेसीटीएसएल बसों में भी रक्षाबंधन पर निशुल्क यात्रा की सुविधा बालिकाओं और महिलाओं को दी जा सकती है। 


रक्षाबंधन के अवसर पर रोडवेज की बसों में ज्यादा भीड़ रहती है। ऐसे में रोडवेज प्रशासन महिलाओं के लिए विशेष व्यवस्थाएं करेगा। जिससे महिलाओं को लाइन में खड़े रहकर परेशान नहीं होना पड़े। इसके साथ ही रोडवेज बसों में बैठाने के लिए अलग से कर्मचारी लगाए जाएंगे।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.