Udaipur Murder Case: गौस मोहम्मद को पाकिस्तान भेजने वाले चार आरोपी हिरासत में, कर्फ्यू में 12 घंटे की ढील


ख़बर सुनें

कन्हैयालाल हत्याकांड के पांचवें दिन रविवार को उदयपुर में कर्फ्यू में दस घंटे की ढील दी गई। वहीं सोमवार से कर्फ्यू में 12 घंटे की छूट रहेगी। इसको लेकर जिला मजिस्ट्रेट ने आदेश जारी किए हैं। हालांकि, उदयपुर में इंटरनेट बंद रहेगा।

जयपुर में रविवार दोपहर से इंटरनेट शुरू हो गया। दूसरी ओर सीकर में फिर से 24 घंटे के लिए इंटरनेट बंद कर दिया गया है। वहीं कन्हैयालाल हत्याकांड की जांच एनआईए कर रही है। जांच में सामने आया कि इस हत्याकांड में दो मौलाना और दो वकील भी शामिल थे। आरोप है कि इन्हीं चारों ने हत्यारे गौस मोहम्मद को पाकिस्तान भेजा था। जिसके बाद एटीएस ने रविवार रात को चारों आरोपियों को उदयपुर के एक धार्मिक स्थल से हिरासत में लिया है। इनमें अब्दुल रज्जाक, रियासत हुसैन, वसीम अतहारी, अख्तर रजा शामिल हैं। 

क्या है मामला
बता दें कि 28 जून को उदयपुर में दो लोगों ने कन्हैयालाल नाम के व्यक्ति की उसके दुकान में घुसकर बेरहमी से हत्या कर दी थी। आरोपियों ने हत्या से पहले और उसके बाद वीडियो भी बनाया था। वीडियो में उन्होंने प्रधानमंत्री तक को मारने की धमकी दी। हालांकि, वारदात के बाद ही पुलिस ने दोनों मुख्य आरोपियों को दबोच लिया। बाद में अन्य आरोपी गिरफ्तार किए गए। 

विस्तार

कन्हैयालाल हत्याकांड के पांचवें दिन रविवार को उदयपुर में कर्फ्यू में दस घंटे की ढील दी गई। वहीं सोमवार से कर्फ्यू में 12 घंटे की छूट रहेगी। इसको लेकर जिला मजिस्ट्रेट ने आदेश जारी किए हैं। हालांकि, उदयपुर में इंटरनेट बंद रहेगा।


जयपुर में रविवार दोपहर से इंटरनेट शुरू हो गया। दूसरी ओर सीकर में फिर से 24 घंटे के लिए इंटरनेट बंद कर दिया गया है। वहीं कन्हैयालाल हत्याकांड की जांच एनआईए कर रही है। जांच में सामने आया कि इस हत्याकांड में दो मौलाना और दो वकील भी शामिल थे। आरोप है कि इन्हीं चारों ने हत्यारे गौस मोहम्मद को पाकिस्तान भेजा था। जिसके बाद एटीएस ने रविवार रात को चारों आरोपियों को उदयपुर के एक धार्मिक स्थल से हिरासत में लिया है। इनमें अब्दुल रज्जाक, रियासत हुसैन, वसीम अतहारी, अख्तर रजा शामिल हैं। 

क्या है मामला

बता दें कि 28 जून को उदयपुर में दो लोगों ने कन्हैयालाल नाम के व्यक्ति की उसके दुकान में घुसकर बेरहमी से हत्या कर दी थी। आरोपियों ने हत्या से पहले और उसके बाद वीडियो भी बनाया था। वीडियो में उन्होंने प्रधानमंत्री तक को मारने की धमकी दी। हालांकि, वारदात के बाद ही पुलिस ने दोनों मुख्य आरोपियों को दबोच लिया। बाद में अन्य आरोपी गिरफ्तार किए गए। 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.