Rajasthan: जालौर में संत ने की आत्महत्या, पेड़ पर लटका मिला शव ; भाजपा विधायक से चल रहा था विवाद


राजस्थान में भरतपुर के संत आत्मदाह का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ कि जालौर जिले में एक संत ने आत्महत्या कर ली। जिले के जसवंतपुरा क्षेत्र के सुंधा तलहटी के पास राजपुरा गांव में संत रविनाथ महाराज ने गुरुवार देर रात पेड़ पर लटक कर आत्महत्या कर ली घटना की जानकारी मिलने के बाद जसवंतपुरा पुलिस और प्रशासन मौके पर पहुंचा। पुलिस को एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। लेकिन उसमें लिखी बातों का खुलासा पुलिस ने नहीं किया है। राजपुरा गांव में मंदिर के बाहर सड़क के किनारे रविनाथ महाराज का शव एक पेड़ से लटकता मिला था। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। 

भाजपा विधायक से विवाद की बात सामने आई

 इस घटना की जानकारी दलित समुदाय को लगने के बाद मौके पर एकत्रित होना शुरू हो गए। दलित समुदाय के लोगों का आरोप है कि सुसाइड नोट को सार्वजनिक करके नामजद आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए अन्यथा शव को उतारने नहीं दिया जाएगा। जिसके चलते गतिरोध चल रहा है।  सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार बीते दिनों भीनमाल के विधायक पूराराम चौधरी और व संत रविदास के बीच किसी बात को लेकर बहस हुई थी। उसके बाद आत्महत्या का मामला सामने आया है। ऐसे में दलित समुदाय में आक्रोश व्याप्त है। इस सुसाइड नोट में जमीन को लेकर भीनमाल से भाजपा विधायक पूराराम चौधरी पर परेशान करने के आरोप लगाए गए हैं। 

साधु के आश्रम में से रास्ता लेने को लेकर विवाद चल रहा था

बताया जा रहा है कि यह जमीन विधायक के रिश्तेदार के नाम पर है। आश्रम के पीछे भीनमाल विधायक पूराराम सहित कुछ लोगों की जमीन है, लेकिन रास्ता नहीं था। इस पर साधु के आश्रम में से रास्ता लेने को लेकर विवाद चल रहा था। तीन दिन पहले विधायक पूराराम ने अपने लोगों को आश्रम में खाई खोदने भेजा था। उन्होंने आश्रम के पास यह खाई खोद दी। इस विवाद के चलते साधु रविनाथ ने पेड़ पर फांसी के फंदे से लटकर आत्महत्या कर ली। देररात विधायक पूनमाराम पांच आदमियों के साथ आश्रम में ही सोया था। सुबह सबसे पहले उठकर उसी ने साधु को लटकते हुए देखा। फिर पुलिस को सूचना दी। घटना के बाद आक्रोशित लोगों और साधु-संतो की भीड़ जुट गई। लोगों के आक्रोश को देखते हुए जसवंतपुरा, रानीवाड़ा और भीनमाल थाने से पुलिस जाब्ता बुलाकर मौके पर तैनात किया गया है। सूचना के बाद एडीएम राजेंद्र सिंह, सांचौर डीएसपी रूप सिंह इंदा सहित पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.