In Dholpur health workers ANM and LHB protested against  government expressing grief

स्वास्थ्य कर्मी महिलाओं ने किया विरोध।
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार

धौलपुर में लंबित मांगों को लेकर जिले का एएनएम और एलएचबी संघ विगत 18 दिन से हड़ताल पर बैठा हुआ है। स्वास्थ्य कर्मी सरकार के खिलाफ लगातार विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं। सोमवार को कलेक्ट्रेट कार्यालय के सामने एएनएम और एलएचपी संघ ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ मातम विरोध किया गया।  

संघ की पदाधिकारी छोटी बाई ने बताया एएनएम और एलएचबी संघ विगत लंबे समय से बुनियादी मांगों को लागू करने की मांग कर रहा है। सरकार से ग्रेड पे 28 सौ से बढ़ाकर 36 सौ, पदनाम परिवर्तन समेत अन्य मांग की जा रही है। लेकिन सरकार संघ की मांगों को लेकर गंभीर नहीं है। अब एएनएम एवं एलएचबी संघ का सब्र का बांध टूटता जा रहा है। 

राजधानी मुख्यालय समेत प्रदेश के सभी जिलों में विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं। संघ के हड़ताल पर रहने से स्वास्थ्य सेवाओं पर भी विपरीत असर पड़ रहा है। खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में पीएचसी एवं सब सेंटर प्रभावित हो रहे हैं। टीकाकरण की व्यवस्था धरातल पर नहीं पहुंच रही हैं। स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरह से बदहाल हो रही है। उसके बावजूद सरकार संघ की मांगों को लेकर गंभीर नहीं है।  

मातम मनाकर जताया विरोध

एएनएम और एलएचबी संघ ने सोमवार को अनोखे तरीके से विरोध प्रदर्शन किया। साउंड सिस्टम को लगाकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ रोकर और मातम मनाकर विरोध जताया गया। संघ ने चेतावनी देते हुए कहा अगर राज्य सरकार ने उनकी मांगों को लागू नहीं किया तो आगामी समय में सड़कों पर उतर कर उग्र आंदोलन करेंगे।

मंगलवार को निकाली जाएगी महारैली

एएनएम- एलएचबी संघ की पदाधिकारी ममता राजपूत ने बताया राज्य सरकार के कानों तक जूं नहीं रेंग रही है। संघ किसी भी स्थिति पर सरकार को घेरने के प्रयास करेगा। उन्होंने बताया मंगलवार को शहर के गांधी पार्क में बैठक का आयोजन किया जाएगा। बैठक के अंतर्गत जिले के समस्त एएनएम और एलएचबी संघ के पदाधिकारी- कर्मचारी रहेंगे। बैठक के बाद महा रैली का आयोजन किया जाएगा। कलेक्ट्रेट कार्यालय का घेराव कर जिला कलेक्टर अनिल कुमार अग्रवाल को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन प्रेषित किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *