पीड़ित लोग
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार

सवाई माधोपुर जिला मुख्यालय के वार्ड नंबर-54 की रेलवे कॉलोनी स्थित रैगर मोहल्ला में कई मकानों की छत की चद्दर उड़ गईं, जिसके चलते आंधी तूफान और बारिश से घरों में रखा खाने-पीने, ओढ़ने सहित समूचा सामान खराब हो गया। गनीमत रही कि मकान में रहने वाला परिवार सुरक्षित रहा, वरना कोई बड़ी दुर्घटना या जनहानि भी हो सकती थी।

पीड़ित महिला संतरा देवी ने बताया कि बीती रात आये तूफान में उसका पूरा का पूरा आशियाना तबाह हो गया, घर की छत के चद्दर उड़ने से उनका सारा घरेलू सामान खराब हो गया। चद्दर उड़ने से उसके मकान पर छत नहीं रही। वहीं, कई चद्दर टूटकर घर में ही गिर गईं, जिससे घरेलू सामान खराब हो गया।

जिला प्रशासन से प्रभावितों को मुआवजा देने की मांग…

तूफान के बाद आई बारिश से सारा घरेलू सामान भीग गया। संतरा का कहना है कि घर के चद्दर उड़ने के बाद उसका पूरा परिवार रात भर खुले में बैठा रहा और यूं ही बैठकर पूरी रात गुजारी। सुबह चाय बनाने तक का सामान नहीं बचा। आशियाना उजड़ने से पूरा परिवार गमजदा है। सुबह स्थानीय पार्षद रामसहाय मौके पर पहुंचे और हालात का जायजा लिया। पार्षद में जिला प्रशासन से मांग की है कि आंधी तूफान बारिश में हुए नुकसान का आकलन किया जाए और प्रभावित लोगों को मुआवजा दिया जाए। प्रशासन से पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता देने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *