पुलिस गिरफ्त में आरोपी।
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


मामला हनुमानगढ़ जिले के रावतसर थाना इलाके का है। नोहर सीओ रघुवीर सिंह भाटी ने बताया कि रावतसर तहसील क्षेत्र के एक गवर्नमेंट सीनियर हायर सेकेंडरी स्कूल के प्रिंसिपल गुरदयाल मेहरड़ा के खिलाफ 22 जुलाई को एक नाबालिग छात्रा के पिता ने छेड़खानी और अश्लील चैटिंग करने का केस दर्ज कराया था। ग्रामीणों ने प्रिंसिपल को हटाने को लेकर स्कूल के बाहर धरना शुरू कर दिया था। स्कूल की नाबालिग छात्राओं से छेड़खानी और अश्लील चैटिंग करने वाले प्रिंसिपल गुरदयाल मेहरड़ा को सोमवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

ऑफिस में करता था अश्लील हरकत 

रावतसर थाने में दर्ज एफआईआर में आरोप लगाए गए हैं कि प्रिंसिपल स्कूल के सीसीटीवी कैमरे बंद करवा कर छात्राओं को ऑफिस में बुलाता था। फिर उनके साथ अश्लील हरकत और छेड़खानी करता था। छात्राओं के मोबाइल नंबर पर अश्लील मैसेज करता था। उनको ब्लैकमेल करता था और कहता था कि अगर मेरी बातें घर जाकर परिजनों को बताई तो टीसी काटकर स्कूल से निकाल दूंगा। कागजात ब्लैक लिस्ट में डाल दूंगा, फिर तुम्हें किसी भी स्कूल में प्रवेश नहीं मिलेगा। मैं कुछ भी कर सकता हूं। आरोपी छात्राओं को इस तरह की धमकियां देकर छेड़छाड़ करता था। डर मारे छात्राएं लंबे समय तक चुप रहीं।

पहले एपीओ, फिर किया था निलंबित 

मामले को लेकर प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों की मांग पर शिक्षा विभाग ने आरोपी प्रिंसिपल को पहले एपीओ कर दिया था, लेकिन विरोध बढ़ता देख उसे निलंबित कर दिया गया। वहीं, रावतसर पुलिस ने पॉक्सो एक्ट समेत अन्य  धाराओं में उसके खिलाफ केस दर्ज किया था। एसपी ने मामले की जांच नोहर सीओ को सौंपी थी।  जांच अधिकारी नोहर सीओ रघुवीर सिंह भाटी ने बताया- एसपी के निर्देश पर मामले में जांच की गई थी। सीनियर हायर सेकेंडरी स्कूल के प्रिंसिपल द्वारा नाबालिग बच्चियों के साथ दुर्व्यवहार, छेड़छाड़ और वॉट्सऐप पर अश्लील चैट की गई थी। इसके बाद आरोपी प्रिंसिपल को गिरफ्तार किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *