कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे।
– फोटो : सोशल मीडिया

विस्तार


कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने भीलवाड़ा में किसान जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने सीएम अशोक गहलोत की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि राजस्थान के मुख्यमंत्री सबके लाडले हैं। आपको गरीबों के दुख और दर्द को समझने वाला एक नेता मिला है।

मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा- राजस्थान देश में भौगोलिक दृष्टि से सबसे बड़ा राज्य है। यहां के किसान भी उतने ही मेहनती हैं। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि किसानों का ऐसा विशाल सम्मेलन पहली बार हो रहा है। पुरुषों का प्रभाव हर मीटिंग में रहता है। आज भी देखिए, हमारी माताएं पीछे बैठी हैं, सभी पुरुष आगे बैठे हैं। कम से कम एक लाइन आप महिलाओं की आगे लेते, तो बहुत अच्छा लगता। कभी-कभी यहीं हमारी कमजोरी होती है। स्त्री और पुरुष को इकट्ठा लाना, समानता की दृष्टि से देखना ये कांग्रेस पार्टी का एक बहुत बड़ा काम पहले से हुआ है और आगे भी होगा।

लोकार्पण करने के लिए दोबारा लाएंगे कांग्रेस सरकार  

खरगे ने दूध प्रोसेसिंग प्लांट को लेकर कहा कि यहां 5 लाख लीटर क्षमता के नए प्रोसेसिंग प्लांट और अन्य योजनाओं का लोकार्पण किया गया है। 223 करोड़ की योजनाओं की शिलान्यास भी हुआ है। हमें विश्वास है कि इन सभी योजनाओं को समय पर पूरा करने और इनका लोकार्पण करने के लिए आप दोबारा राजस्थान में कांग्रेस की सरकार लाएंगे।

भीलवाड़ा के विकास में कांग्रेस का भी योगदान

खरगे बोले- ये राजस्थान महान हस्तियों का प्रदेश है, उनको मैं प्रणाम करता हूं। बप्पा रावल, महाराणा प्रताप या मुहम्मद शाह हों सभी ने इस धरती पर जन्म लेकर अपना पराक्रम दिखाया है और देश की रक्षा के लिए उन्होंने अपनी जान की कुर्बानी भी दी है। भीलवाड़ा के विकास में कांग्रेस का भी योगदान है। यहां के टैक्सटाइल वर्कर और टैक्सटाइल काम देश को बहुत बड़ी देन है। 

जो कांग्रेस ने किया उसको मिटाने में वो खुशी मानते हैं 

खड़गे ने कहा कि मुझे याद है जब सीपी जोशी केंद्र में ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर थे, उस वक्त मुझे यहाँ पर मेमू (Mainline Electric Multiple Unit) ट्रेन की एक फैक्ट्री बनाने के लिए बुलाया गया था। मैं और सोनिया गांधी यहां आए थे और उसकी बुनियाद डाल कर गए थे। लेकिन, वो पत्थर वहीं रह गया, इसलिए कि ये जो मोदी सरकार किसी को ऊपर आने नहीं देती है और कांग्रेस ने जो पहले किया है, उसको मिटाने में वो खुशी मानते हैं।

जो-जो चीजें हमने की हैं, उसको वहीं रोक दिया और वो जो नए-नए स्कीम कहकर ला रहे हैं, उसमें कुछ भी नहीं है। क्योंकि, उनके पास ना प्लानिंग है, ना गरीबों के लिए काम करने का हौसला है, ना गरीब के लिए कुछ नई-नई योजनाएं लाने की उनकी फितरत है। वो कुछ नहीं करेंगे, सिर्फ कांग्रेस को गालियां देते जाएंगे। वे लोग बार-बार हमें पूछते हैं कि भाई 70 साल में कांग्रेस ने क्या किया। अब इधर-उधर 53 साल बोल रहे हैं, वो भूल गए 70 साल। तो 53 साल में आपने क्या किया, ये बात हमसे पूछते हैं। अरे राजस्थान में आजादी आने के बाद भू सुधार, लैंड रिफॉर्म कौन लाया? जो काश्तकार थे, जो टैनेंट थे, उनको मालिक किसने बनाया वो सिर्फ कांग्रेस ने बनाया। हम कभी भी झूठ नहीं बोलते, हमारा काम लोगों को मजबूत करने काम है। 

राजा-महाराजाओं की तनख्वाह इंदिरा गांधी ने बंद कर दी थी

मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा- लैंड रिफॉर्म यहां पर हुआ है। उसी के साथ-साथ यहां जो छोटे-मोटे राजे महाराजे थे, उन सबकी तनख्वाह भी इंदिरा गांधीजी ने बंद कर दी थी और गरीबों के लिए बैंकों के रास्ते भी खोल दिए थे। ये कांग्रेस का काम है। आप लोगों (भाजपा) के पास काम करने की कोई हिम्मत नहीं है। कहीं भी जाओ, परिवारवाद, परिवारवाद, क्या है परिवारवाद? किसके लिए बोलते हैं, क्योंकि राहुल गांधी ने कन्याकुमारी से कश्मीर तक 4,500 किलोमीटर की यात्रा पैदल की। उन्होंने लोगों के दुख और दर्द को समझा। उस भारत जोड़ो यात्रा में गरीब, किसान, मजदूर, विद्यार्थी, महिलाएं और अनेक लोग शामिल हुए। इतनी बड़ी यात्रा शायद भारत में पहले कभी हुई नहीं और आगे भी नहीं होगी। राहुल गांधी ने इतना बड़ा कदम उठाकर भारत जोड़ो यात्रा की।

हम भारत जोड़ो बोलते हैं वो भारत तोड़ो 

खरगे ने कहा कि हम भारत जोड़ो बोलते हैं, तो वो हमेशा भारत तोड़ो कहते हैं। अब इधर-उधर इंडिया की जो ऑल पार्टी की मीटिंग थी। हमने सबको मिलाकर इकट्ठा करके एक मजबूत संगठन बनाया। जिसका नाम  ‘इंडिया’ रखा गया। ये नाम देखकर वो घबरा रहे हैं। अरे आप इंडिया छोड़ दो, आप भारत नाम रखो। अब भारत नाम रखने के लिए आ रहे हैं।

संविधान में है इंडिया मतलब भारत  

कांग्रेस अध्यक्ष खरगे ने कहा कि संविधान में इंडिया मतलब भारत ये दोनों शब्द है। भाई आपको क्या एतराज। हम भारत जोड़ो पहले ही बोल रहे हैं, लेकिन आप कुछ ना कुछ नया लाने की कोशिश कर रहे हैं। भारत जोड़ो यात्रा के साथ हमने तो  ये संदेश देश भर में फैलाया है। अगर हम कहीं उसकी बात करते हैं तो वो उसे बदनाम करने की कोशिश करते हैं या फिर लोगों को भ्रमित करते हैं।  

खरगे ने कहा कि जय नारायण व्यास , सुखाड़ियाजी और सेंटर में पंडित जवाहरलाल नेहरुजी नहीं होते तो क्या राजस्थान को जो फायदा पहुंचाया गया वो सब हो पाता। आपने क्या कुछ नहीं किया। कांग्रेस को गालियां देते हैं या फिर धर्म के नाम पर इकट्ठा करो, हिंदू-मुसलमान करते हैं। अरे ये बताओ देश के गरीबों को कैसे बचाएंगे, उनका पेट कैसे भरेंगे, उनको नौकरी कैसे देंगे और महंगाई को कैसे खत्म करेंगे और सभी भारतवासियों को 500 रुपए में सिलेंडर कब दोगे।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *