Rajasthan: Political temperature heated up due to Vasundhara raje statement before PM Modi jaipur visit

Rajasthan: Vasundhara Raje
– फोटो : Amar Ujala/Rahul Bisht

विस्तार


पीएम मोदी के जयपुर दौरे के ठीक एक दिन पहले पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने एक बयान देकर प्रदेश की सियासत को गर्मा दिया है। राजे ने एक बार फिर दो टूक कह दिया है कि वह राजस्थान छोड़कर कहीं नहीं जाएंगी। राजे के इस बयान के बाद भाजपा की सियासत में हलचल तेज हो गई है। पूर्व सीएम ने अपने इस बयान के जरिए भाजपा हाईकमान को संदेश दिया है कि उनका राजस्थान छोड़कर जाने का बिल्कुल इरादा नहीं है। प्रदेश के राजनीति हलकों में चर्चा तेज है कि क्या वाकई में वसुंधरा राजे को यह अहसास हो रहा कि उन्हें शीर्ष नेतृत्व केंद्र में ले जाने की तैयारी कर रहा है। जिसके बाद वसुंधरा राजे को पीएम के दौरे के ठीक पहले इस तरह का बयान देने की जरूरत महसूस हुई।

दरअसल, लंबे समय से राजस्थान की सियासत में वसुंधरा राजे और भाजपा हाईकमान के बीच खींचतान की खबरें सामने आ रही हैं। इसी के चलते सियासत में चर्चा है कि इस बार भाजपा हाईकमान वसुंधरा को दिल्ली ले जाने की तैयारी कर रहा है। इसी बीच भाजपा ने वसुंधरा राजे को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाकर यह संदेश देने की कोशिश भी की। लेकिन वसुंधरा राजे दिल्ली जाने के लिए कतई तैयार नहीं हैं। वह राजस्थान की राजनीति में ही बनी रहना चाहती हैं। इसे लेकर उन्होंने कई बार शीर्ष नेतृत्व को भी संदेश दिया है। पीएम नरेंद्र मोदी की जयपुर में 25 सितंबर को होने वाली चुनावी सभा से पहले वसुंधरा ने एक बार फिर अपनी ताकत दिखाने का प्रयास किया। इस दौरान वसुंधरा राजे ने राज्य भर से रक्षा सूत्र बांधने आई महिलाओं को संबोधित करते हुए दो टूक कहा कि महिलाओं की अटूट शक्ति की वजह से राजस्थान से कहीं नहीं जाऊंगी। आपके साथ रहूंगी और आपकी ही सेवा करूंगी। आपकी आवाज उठाने में कोई कमी नहीं रखूंगी। इस संबोधन के माध्यम से वसुंधरा राजे ने शेष नेतृत्व को साफ-साफ संदेश दे दिया है कि उनका दिल्ली की राजनीति में आने का कोई इरादा नहीं है। इस बयान के बाद भाजपा में अंदरखाने हड़कंप मचा हुआ है।

साढ़े चार साल बाद पीएम फिर पहुंच रहे जयपुर

राजस्थान की राजधानी में करीब साढ़े चार साल बाद सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सभा करने जा रहे हैं। पीएम यहां पहले भाजपा की परिवर्तन यात्राओं का आधिकारिक रूप से समापन करेंगे। इसके बाद वे जयपुर जिले की दादिया पंचायत के सूरजपुरा (वाटिका) में करेंगे। इससे पहले लोकसभा चुनावों के दौरान पीएम मोदी की जयपुर के मानसरोवर में 1 मई 2019 को जनसभा के लिए पहुंचे थे। साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनावों को देखते हुए पीएम मोदी अब तक प्रदेश के सभी अलग-अलग जिलों में सभा कर चुके हैं। पीएम की जयपुर में अभी तक कोई सभा नहीं हुई थी। ऐसे में भाजपा जयपुर की सभा को सफल बनाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है।






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *