ईडी का छापा
– फोटो : सोशल मीडिया

विस्तार


पेपर लीक मामले में ED की सक्रियता से प्रदेश में हड़कंप की स्थिति पैदा हो गई है। कांग्रेस नेताओं के करीबियों के घर कार्रवाई चल रही है। दिनेश खोड़निया, स्पर्धा चौधरी और अशोक जैन के नौ ठिकानों पर कार्रवाई की सूचना मिली है।

बता दें कि पेपर लीक मामले में शुक्रवार सुबह प्रदेश के तीन शहरों में ED की कार्रवाई शुरू हुई तो खबर आग की तरह पूरे प्रदेश में फैल गई। कहा जा रहा है कि कांग्रेस सीनियर नेताओं के करीबियों के घर और दफ्तर सहित नौ ठिकानों पर ED की कार्रवाई हो रही है। यह सभी जगह दिनेश खोड़निया, स्पर्धा चौधरी और अशोक जैन के बताए जा रहे हैं, जिसमें से दिनेश खोड़निया मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के करीबी बताए जा रहे हैं। वहीं, स्पर्धा चौधरी पेपर लीक सरगना सुरेश ढाका की महिला मित्र हैं और अशोक जैन भी एक कांग्रेस नेता के करीबी हैं।

ईडी सूत्रों के अनुसार, पेपर लीक में शामिल आरपीएससी सदस्य बाबूलाल कटारा और मास्टरमाइंड भूपेंद्र सारण को ईडी ने पिछले दिनों रिमांड पर लिया था। बाबूलाल ने पूछताछ में कुछ अन्य लोगों की जानकारी ईडी को दी थी। बाबूलाल कटारा से हुई पूछताछ के बाद ईडी ने भूपेंद्र सारण को तीन दिन के रिमांड पर लेकर पूछताछ की थी। भूपेंद्र सारण से भी  पूछताछ की गई थी, बाबूलाल कटारा और भूपेंद्र सारण जानते हैं कि और कौन लोग पर्दे के पीछे थे। रिमांड के दौरान दोनों से मिली जानकारी को दिल्ली ईडी कार्यालय में भिजवाया गया। 

एक गोपनीय दल ने दिनेश खोड़निया, अशोक जैन और स्पर्धा चौधरी की पिछले सात दिन तक जांच की। जांच में इनके बैंक डिटेल, बैक ग्राउंड, कॉनटैक्ट, आगामी विधानसभा चुनाव में इनकी भूमिका की जांच की गई। इसके अलावा सिविल लाइन में कई वरिष्ठ नेताओं के संपर्क की जानकारी ईडी को मिली। इस पर दिल्ली और गुजरात की टीम को जयपुर में छापेमारी के लिए भेजा गया। ईडी को सर्च के दौरान सबूत मिलने पर सभी को ईडी मुख्यालय में आने के नोटिस दिए जा सकते हैं। नोटिस के बाद ईडी मुख्यालय में आकर ईडी के सवालों के जवाब देने होंगे।

किरोड़ीलाल मीणा की प्रेस वार्ता

पेपर लीक पर ED की कार्रवाई शुक्रवार सुबह से प्रदेश के तीन शहर और नौ ठिकानों पर चल रही है। ऐसे में डॉ किरोड़ीलाल मीणा ने दावा किया है कि उनके पास उस जगह का पता है, जहां करोड़ों की नकदी और ढेरों सोना रखा हुआ है। मीणा अपने साथ प्रेस को लेकर उस स्थान पर पहुंच रहे हैं, जहां डॉ किरोड़ीलाल दावा कर रहे हैं कि काला धन रखा हुआ है। किरोड़ीलाल ने दावा किया है कि उनके धरना देने से ED की नजर में वो जगह आएगी और काला धन पकड़ा जाएगा।

डॉ किरोड़ीलाल मीणा ने दावा किया है कि पेपर लीक के तार मुख्यमंत्री से भी जुड़े हैं। क्योंकि दिनेश खोड़निया मुख्यमंत्री गहलोत का करीबी हैं और उनके काले पैसे का हिसाब रखता है। डॉ किरोड़ीलाल ने स्पर्धा चौधरी के भी राहुल गांधी के संपर्क और कांग्रेस में पद पर होने की बात कही है। अभी स्पर्धा चौधरी आरएलपी में महिला मोर्चा की अध्यक्ष हैं। मीणा ने हनुमान बेनीवाल को भी सलाह देते हुए कहा है, तुरंत इसको बर्खास्त करें, नहीं तो इसकी वजह से अपनी भी साख खराब हो सकती है। 

जयपुर के एमआई रोड स्थित गणपति टावर में लॉक रूम पहुंचे किरोड़ीलाल मीणा

मीणा का दावा है कि 100 लॉकर में 500 करोड़ की रकम और कई किलो सोना मौजूद है। जब तक पुलिस आकर इनको सील नहीं करती, जब तक यही बैठकर धरना दूंगा। मीणा बोले, इसमें बड़े मगरमच्छ शामिल हैं। अगर नाम लिए तो सब कुछ गायब कर दिया जाएगा। इसलिए तब तक बैठूंगा, जब तक इनको सील नहीं किया जाता है। डॉ किरोड़ी लाल मीणा ने कहा कि कार्रवाई के बाद नाम का खुलासा करूंगा। पुलिस मौके पर पहुंच चुकी है और बातचीत का दौर शुरू हो चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *