अजमेर में केंद्रीय मंत्री के सामने नारेबाजी करते कार्यकर्ता।
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


राजस्थान में भाजपा की उम्मीदवारों की लिस्ट आते ही गुटबाजी भी सामने आ गई है। अजमेर में केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के सामने उत्तर सीट के दो दावेदारों वासुदेव देवनानी और सुभाष काबरा के समर्थको ने लगाए नारे। देवनानी को पांचवीं बार टिकट देने पर विरोध जताया। वहीं, सवाई माधोपुर में किरोड़ीलाल मीणा को प्रत्याशी बनाने के विरोध में आशा मीणा ने निर्दलीय चुनाव लड़ने की तैयारी दिखाई है। 

अजमेर में केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के सामने भाजपा कार्यकर्ताओं ने वासुदेव देवनानी को पांचवीं बार टिकट देने पर विरोध जताया। अजमेर-उत्तर और अजमेर-दक्षिण से टिकट बदलने की मांग की। इस दौरान दोनों नेताओं के समर्थक कुछ देर के लिए आपस में भिड़ गए। बाद में जिला अध्यक्ष रमेश सोनी ने मामला शांत करवाया। केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक लेने अजमेर भाजपा कार्यालय पहुंचे थे। कार्यालय के बाहर भाजपा नेता सुभाष काबरा के समर्थकों ने केंद्रीय मंत्री की गाड़ी का घेराव किया। अजमेर-उत्तर और अजमेर-दक्षिण विधानसभा क्षेत्र में उम्मीदवार बदलने की मांग की। अपना विरोध जताया। वहीं, देवनानी के समर्थकों ने भी नारेबाजी की।  

सड़कों पर उतरने की चेतावनी  

भाजपा नेता सुभाष काबरा ने कहा कि अजमेर-उत्तर विधानसभा क्षेत्र में दो लाख 9 हजार वोटर हैं। अधिकतर लोग परिवर्तन चाहते हैं। बीस साल बाद परिवर्तन होना चाहिए। सभी लोग पिता तुल्य व्यक्ति से अब ज्यादा काम नहीं कराना चाहते हैं। सब एकमत होकर जनसेवक को टिकट दिलाने और केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह से बात करने आए हैं। काबरा ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि लोग अपने जन सेवक को चुनाव जिताने और टिकट दिलाने के लिए सड़क पर उतरेंगे। अभी ज्यादा कुछ कहना उचित नहीं होगा। उत्तर व दक्षिण में दोनों विधायकों को जबरदस्त अवसर मिला था। जब हमारी सरकार थी तो दोनों विधायक आपस में झगड़ते रहे।

निर्दलीय चुनाव लड़ने की तैयारी में आशा मीणा

सवाई माधोपुर विधानसभा सीट से भाजपा ने डॉक्टर किरोडी लाल मीणा को प्रत्याशी बनाया है। इसके बाद सवाई माधोपुर में गुटबाजी और विरोध बढ़ गया है। भाजपा कार्यसमिति सदस्य आशा मीणा ने बगावती तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। इसी कड़ी में आशा मीणा ने बाडोलास, रईथा कला, रईथा खुर्द, हिंगोनी, निनोनी, देवली सहित कई गांवों का दौरा किया। ग्रामीणों का मन टटोला। आशा मीणा ने कहा कि वह पिछले पांच वर्ष से लगातार सवाई माधोपुर विधानसभा क्षेत्र का दौरा कर आमजन की समस्याओं के निराकरण के लिए संघर्ष कर रही हैं। इन बातों से संकेत मिल रहे हैं कि क्षेत्र की जनता का सर्मथन मिलता देख आशा मीणा निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनावी मैदान में उतरने की तैयारी कर रही है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *