चित्तौड़गढ़ में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष का विरोध।
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


भाजपा प्रत्याशियों की दूसरी सूची आने के बाद अब इसका विरोध भी शुरू हो गया है। चित्तौड़गढ़, उदयपुर और अलवर समेत कुछ अन्य जगह भी कार्यकर्ता प्रत्याशियों के विरोध में उतर आए हैं। चित्तौड़गढ़ में चंद्रभान सिंह आक्या का टिकट कट गया। उन्होंने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष पर कई गंभीर आरोप लगाए।

उदयपुर में भाजपा के ताराचंद जैन को उम्मीदवार बनाए जाने का विरोध हो रहा है। बूंदी विधानसभा सीट से प्रत्याशी अशोक डोगरा के खिलाफ नाराजगी समाने आई है। वहीं, अलवर शहर से लगातार दूसरी बार प्रत्याशी बनाए गए संजय शर्मा का भी विरोध हो रहा है। दूसरी सूची से नाराज नेताओं और कार्यकर्ताओं ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी के खिलाफ उनके ही गृह जिले में जकर विरोध-प्रदर्शन कर नारेबाजी की। 

चित्तौड़गढ़: टिकट कटने से नाराज आक्या बोले- जोशी खुन्नस निकाल रहे 

चित्तौड़गढ़ से दो बार जीतकर विधायक बने चंद्रभान सिंह आक्या का दूसरी सूची में टिकट कट गया। यहां से नरपत सिंह राजवी को टिकट दिया गया है। राजवी इस सीट से पहले दो बार विधायक रह चुके हैं। वहीं, कार्यकर्ताओं को उम्मीद थी कि भाजपा इस बार भी आक्या को उम्मीदवार बनाएगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। जिसके बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी के खिलाफ प्रदर्शन किया गया। टिकट कटने पर आक्या ने कहा- जोशी ने मेरे साथ खुन्नस निकाली है। उन्होंने कहा- ये झगड़ा पुराना है। जब मैं एबीवीपी का कार्यकर्ता था, उस समय सीपी जोशी एनएसयूआई में थे। 

वे एनएसयूआई से प्रेसिडेंट और वाइस प्रेसिडेंट भी बने। कॉलेज टाइम में और फिर पंचायत समिति के झगड़े चलते आए। सीपी जोशी भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बन गए, तब से उनके मन में मेरे लिए खुन्नस है। इसी कारण से उन्होंने मेरा टिकट काटा है। मुझे इसकी जानकारी पहले से ही थी। आगे क्या करूंगा, इसका फैसला जनता और मेरे कार्यकर्ता करेंगे। बतादें कि विरोध को देखते हुए सीपी जोशी के घर के बाहर पुलिस तैनात करनी पड़ गई।  

बूंदी: अशोक डोगरा का विरोध, पुतला फूंका

अशोक डोगरा को भाजपा ने बूंदी सीट से प्रत्याशी बनाया है। डोगरा यहां से लगातार चुनाव जीत रहे हैं। शनिवार को सूची में उनका नाम सामने आने के बाद विरोधी गुट ने डोगरा का विरोध शुरू कर दिया। इस दौरान नारेबाजी कर उनका पुतला भी फूंका गया। 

उदयपुर:  सिंघवी बोले- तो आर-पार की लड़ाई होगी   

यहां से भाजपा ने ताराचंद जैन को उम्मीदवार बनाया है। जैन का नाम सामने आने के बाद उप महापौर पारस सिंघवी ने खुलकर अपनी बात रखी और असम के राज्यपाल गुलाबचंद कटारिया को भी निशाने पर लिया। सिंघवी ने कहा कि कटारिया उदयपुर की राजनीति को दूषित कर रहे हैं। जिस ताराचंद जैन को टिकट दिया गया है उन्होंने पांच साल पहले पार्टी को हराने का काम किया था।  पार्टी अपने फैसले पर फिर से विचार करें नहीं तो आर-पार की लड़ाई लड़नी होगी।  

अलवर में भी लगे भाजपा के खिलाफ नारे 

भाजपा ने अलवर शहर से लगातार दूसरी बार संजय शर्मा को टिकट दिया गया है। शर्मा का नाम सामने आते ही कार्यकर्ताओं ने विरोध शुरू कर दिया। इस दौरान भाजपा और ओम माथुर के खिलाफ नारे लगाए गए। साथ ही शर्मा का पुतला भी फूंका गया।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *