Rajasthan: Shailendra Aggarwal says it is unfortunate that CM Bhajan Lal govt has taken anti-youth decisions

कांग्रेस नेता शैलेंद्र अग्रवाल
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


राजस्थान के अजमेर शहर जिला कांग्रेस कमेटी उत्तर ब्लॉक बी के ब्लॉक अध्यक्ष पूर्व पार्षद शैलेंद्र अग्रवाल ने मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा पर हमला किया है। उन्होंने कहा कि हम भाजपा सरकार के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा द्वारा राज्य के युवाओं के रोजगार विरोधी निर्णय लेने की कड़े शब्दों में निंदा करते हैं। साथ ही उन्होंने जनहित और बेरोजगार युवाओं के हित में सीएम से अपने निर्णय पर पुनर्विचार करने की मांग की है।

कांग्रेस नेता शैलेंद्र अग्रवाल ने कहा कि राज्य की भाजपा सरकार ने सोमवार को एक आदेश जारी कर प्रदेश में चल रहे राजीव गांधी युवा मित्र इंटर्नशिप कार्यक्रम को 31 दिसंबर से बंद करने का निर्णय लिया है। इसे लेकर आर्थिक एवं सांख्यिकी निदेशालय के निदेशक और संयुक्त शासन सचिव ने आदेश भी जारी कर दिए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में यह कार्यक्रम वित्तीय वर्ष 2021-22 से संचालित किया जा रहा था। राजीव गांधी युवा मित्र इंटर्नशिप कार्यक्रम में सरकार की योजनाओं को घर-घर तक पहुंचाने के लिए कार्य कर रहे लगभग पांच हजार युवाओं की सेवाएं समाप्त करने का निर्णय उचित नहीं है। अग्रवाल ने कहा कि भाजपा सरकार को राजीव गांधी के नाम से आपत्ति है तो वह नाम बदल सकती है, परंतु योजना समाप्त करना उचित नहीं है।

कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष शैलेंद्र अग्रवाल ने मंगलवार को राज्य की भजनलाल सरकार द्वारा पूर्ववर्ती अशोक गहलोत सरकार के एक और फैसले को बदलकर 50 हजार महात्मा गांधी सेवा प्रेरकों की भर्ती रद्द करने के निर्णय की भी कड़े शब्दों में भर्त्सना की है। शांति और अहिंसा विभाग ने भर्ती प्रक्रिया को रद्द करने के आदेश जारी कर दिए हैं। शैलेंद्र अग्रवाल ने एक बयान जारी कर कहा कि एक तरफ तो मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा 25 दिसंबर को बयान जारी करते हैं कि पूर्व सरकार की कोई भी योजना बंद नहीं होगी। दूसरी तरफ उसी दिन से गहलोत सरकार की योजनाएं बंद करने की कार्रवाई शुरू कर दी है जो निंदनीय है।

अग्रवाल ने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया कि वे अपने निर्णय पर पुनर्विचार कर दोनों जनविरोधी निर्णयों को वापस लें अन्यथा कांग्रेसजन बेरोजगार युवाओं के साथ मिलकर राज्य की भाजपा सरकार के खिलाफ आंदोलन करेंगे तथा आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा को इसका परिणाम भुगतना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *