पकड़े गए आरोपी
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


हनी ट्रेपिंग के जरिए प्रतिष्ठित व्यक्तियों को फंसाकर रकम वसूलने वाले इस गिरोह में शामिल महिला जेएनवीसी थाने में हनी ट्रेप के मामले में पहले भी गिरफ्तार हो चुकी है। मुक्ता प्रसाद थाना पुलिस ने आरोपियों को परिवादी से 50 हजार रुपये की राशि लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार है। मामले में पुलिस ने फूसी नायक, पृथ्वीदान चारण, ओमप्रकाश सोनी, जीतू सुथार को भी गिरफ्तार किया है।

पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 9 फरवरी को प्रार्थी दीनदयाल ने मामला दर्ज कराया था कि खारा में उसकी सोने-चांदी के आभूषण घड़ाई की दुकान है। बीते दिनों फूसी नाम की महिला ने उसकी दुकान पर आकर परिवार में शादी होने की बात कही और उससे जेवर बनवाए। जेवर बनने के बाद रुपए नहीं होने का बहाना बनाकर वह ज्वेलर को अपने घर ले गई। जहां उसने घर दरवाजा बंद कर पूर्व से ही वहां मौजूद तीन साथियों की मदद से ज्वेलर के कपड़े उतारकर उसका वीडियो बनाया। इसके साथ ही षड्यंत्रपूर्वक उसके पास से चांदी की दो पायजेब और सोने के दो लॉकेट छीन लिए और सामाजिक प्रतिष्ठा खराब करने एवं बलात्कार के झूठे मामले में फंसाने की धमकी देकर उससे दो लाख रुपये हड़प लिए।

इतना ही नहीं इस घटना के बाद फोन पर एक लाख रुपए और देने की मांग की और नहीं देने पर वीडियो को सोशल मीडिया पर डालने की धमकी भी दी। इस पर ज्वेलर ने पुलिस की शरण लेते हुए मुक्ता प्रसाद थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई। पुलिस ने मामला दर्ज कर इसकी जांच उपनिरीक्षक रेणु बाला को सौंपी।

प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए जिला पुलिस अधीक्षक बीकानेर तेजस्वनी गौतम, अति. पुलिस अधीक्षक शहर दीपक कुमार के निर्देशन और वृत्ताधिकारी हिमांशु शर्मा के सुपरविजन में थानाधिकारी सुरेश कुमार, आदित्य काकड़े आईपीएस (प्रो.) के नेतृत्व में थाने की टीम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए हनी ट्रेप गिरोह के ठिकानों पर दबिश दी।

दबिश के दौरान महिला आरोपी फूसी उर्फ पुष्पा देवी (30) समेत ओमप्रकाश, जितेन्द्र उर्फ जीतू और पृथ्वीदान को गिरफ्तार गया है। लोगों को ब्लैकमेल कर फंसाने वाले इस गिरोह से पुलिस पूछताछ कर रही है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *