रेस्क्यू ऑपरेशन
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


सात दिन पहले कच्चे बोरवेल में गिरी महिला को रेस्क्यू ऑपरेशन में बार बार आ रही बाधाओं के चलते अब तक बाहर नहीं निकाला जा सका है। हालांकि रेस्क्यू ऑपरेशन अब अंतिम चरण में बताया जा रहा है लेकिन रेस्क्यू टीम द्वारा बोरवेल के नजदीक खोदे गए गड्ढे में तेज प्रवाह से पानी आने से सुरंग बनाने में खासी परेशानी हो रही है। पिछले 12 घंटे से टीम पंप के माध्यम से गड्ढे से पानी निकालने का काम कर रही है। पानी निकालने के बाद एक बार फिर महिला का रेस्क्यू करने का प्रयास किया जाएगा।

ज्ञात रहे कि गत मंगलवार की रात 25 वर्षीय महिला मोना बैरवा खेत पर बने कच्चे बोरवेल में गिर गई थी। महिला के देर रात तक घर नहीं लौटने पर परिजनों ने महिला की तलाश की, लेकिन महिला का कोई पता नहीं चला। बुधवार सुबह बोरवेल के पास महिला की चप्पल दिखाई दी, तो परिजनों को महिला के बोरवेल में गिरने का अंदेशा हुआ। परिजनों ने इस संबंध में प्रशासन को सूचना दी थी। प्रशासनिक टीम ने एनडीआरफ की टीम को सूचित कर रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू करवा दिया था। बोरवेल 90 से 100 फीट गहरा बताया जा रहा है। एसडीआरएफ व एनडीआरफ की टीम के संयुक्त प्रयास रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया लेकिन टीम को कोई सफलता हासिल नहीं हो सकी है। 

टीम के द्वारा हुक डालकर भी महिला को बोरवेल से निकालने का प्रयास किया गया था लेकिन हुक में महिला के कपड़े ही बाहर आ पाए। इसके बाद रेस्क्यू टीम ने प्लान बी के तहत गुरुवार को दोपहर बाद बोरवेल के पास खुदाई कर महिला को बोरवेल से निकालने के लिए काम शुरू किया लेकिन 15 फीट तक पहुंचते ही नमी के कारण मिट्टी गिरना शुरू हो गई, जिसके कारण प्रशासन ने खुदाई कार्य बंद कर जयपुर से पायलर मशीन मंगाने के लिए संपर्क किया। 

पायलर मशीन के घटना स्थल पर पहुंचने के बाद करीब 100 फीट गहरा गड्ढा खोदा गया और गड्ढे में पाइप डालने का काम किया गया। शनिवार शाम एनडीआरएफ के जवान को ऑक्सीजन सिलेंडर और मास्क लगाकर गड्ढे में उतारा और गड्ढे से बोरबेल तक चार फीट लंबी व ढाई फिट चौड़ी सुरंग बनाने का काम शुरू किया गया लेकिन मिट्टी गिरने के कारण जवान को गड्ढे से बाहर निकालना पड़ा। बार-बार आ रहे व्यवधानों के बीच सुरंग बनाने का काम अंतिम चरण में पहुंचा ही था कि गड्ढे में अचानक नीचे से तेज प्रवाह के साथ पानी आना शुरू हो गया। गड्ढे में पानी की आवक इतनी तेज है कि सुरंग बनाना मुश्किल हो गया है। पिछले 12 घंटों से रेस्क्यू टीम गड्ढे में पम्प सेट लगाकर पानी निकासी कर रही है ताकि रेस्क्यू ऑपरेशन पूरा किया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *