सत्ता का संग्राम
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


लोकसभा चुनावों में जनता के मुद्दे जानने के लिए निकला अमर उजाला का चुनावी रथ सत्ता का संग्राम आज अशोक गहलोत का गढ़ कहे जाने वाले केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के संसदीय क्षेत्र जोधपुर में मतदाताओं से उनके विचार जानने के लिए पहुंचा। चाय पर चर्चा के दौरान

सांसद से है नाराजगी लेकिन वोट मोदी को

टी स्टाल चलाने वाले जितेंद्र भाटी ने कहा कि मोदी लहर के चलते यहां से शेखावत का पलड़ा भारी है। हालांकि पिछले दो कार्यकाल में शेखावत ने जोधपुर में कोई विकास कार्य नहीं किया है, उम्मीद है इस बार जनता के विश्वास पर खरे उतरेंगे। एक अन्य मतदाता का कहना था कि जनता शेखावत से नाराज है लेकिन मोदीजी को लाने के लिए वोट देंगे।

नहीं हुआ विकास

जलशक्ति मंत्री होने के बावजूद जोधपुर में पानी की समस्या जस की तस है। पार्टी देखकर शेखावत को वोट मिल सकते हैं अन्यथा जोधपुर के विकास के लिए करणसिंह को मौका देकर देखेंगे। रोजगार और विकास की बात को लेकर ही एक अन्य युवा मतदाता का कहना था कि जोधपुर में कांग्रेस ने ही विकास किया है। यहां शेखावत ने दस साल में विकास के नाम पर कुछ नहीं किया।

पसोपेश में है मतदाता

चर्चा के दौरान मतदाताओं का कहना था कि केंद्र में नरेंद्र मोदी को देखते हुए न चाहते हुए भी स्थानीय उम्मीदवार को जिताना पड़ेगा। दूसरी पार्टी के प्रत्याशी को जिताने से विकास होगा ही, यह नहीं कहा जा सकता। शेखावत ने जोधपुर में अस्पताल और एयरपोर्ट का विकास जरूर किया है लेकिन आम आदमी और गरीब तबके के लिए अब भी समस्याएं झेल रहा है।

धर्मेंद्र शर्मा का कहना था कि जो व्यक्ति काम करेगा जनता उसे चुनेगी। मोदी जी ने गरीबों के हित में जो योजना चलाई हैं उन्हीं को ध्यान में रखते हुए वोट देंगे। इनका कहना था कि जिले में गजेंद्रसिंह शेखावत ने विकास के कई कार्य करवाए हैं। केंद्र से मंजूरी दिलवाने के बाद प्रदेश में कांग्रेस की सरकार ने शेखावत की कई योजनाओं को अटका दिया जिससे काम पूरा नहीं हो पाया।

कुल मिलाकर जोधपुर की जनता विकास चाहती है। जनता का कहना है कि मोदी जी के राज में देश तो तरक्की कर रहा है लेकिन स्थानीय तौर पर विकास हो तो कुछ बात बने। बहरहाल जनता गजेंद्रसिंह शेखावत से इसी बात को लेकर नाराज है इसलिए शेखावत के सामने चुनौती है कि वे मतदाताओं की भावनाओं को समझते हुए उनकी उम्मीदों पर खरे उतरें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *